भारत में नियुक्त चीनी राजदूत ने सीमा तनाव को लेकर कही यह बात और दिए तीन सुझाव

chinese ambassador
image source - google

भारत और चीन के बीच इस समय सीमा को लेकर तनाव जारी है। इस बीच भारत में नियुक्त चीनी राजदूत ने सीमा तनाव पर बयान जारी किया है। सुन वेदोंग ने कहा कि अतीत से चला और सीमा विवाद संवेदनशील और जटिल है। हमें समान परामर्श और शांतिपूर्ण बातचीत के माध्यम से उचित समाधान खोजने की आवश्यकता है। दोनों देशों को ऐसे कदम उठाने चाहिए जिससे दोनों को फायदा हो ना कि नुकसान।

भारत में नियुक्त चीनी राजदूत सुन वेदोंग ने भारत चीन के संबंध को सुधारने के लिए सुझाव भी दिए। उन्होंने कहा कि दोनों देशों का पारस्परिक हित के कदम उठाने चाहिए। दूसरा सुझाव उन्होंने दिया कि भारत और चीन पार्टनर की तरह होना चाहिए ना की प्रतिस्पर्धी की तरह और भारत और चीन को शांति की चाह रखनी चाहिए।

मालूम हो श भारत और चीन के बीच पिछले 3 महीनों से सीमा को लेकर तनाव चल रहा है। इस बीच दोनों देशों के सैनिकों में झड़प भी हुई। लेकिन 15 जून को हिंसक झड़प होने के बाद देश में चीन के खिलाफ आक्रोश काफी बढ़ गया और चीनी सामान बैन करने की मांग होने लगी।

इसके बाद सरकार ने भारत को आत्मनिर्भर बनाने और सुरक्षा के लिए चीन के 59 मोबाइल एप्लीकेशन पर प्रतिबंध लगा दिया। इसके साथ ही चीनी कंपनियों को भारत के कई बड़े प्रोजेक्ट से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया। अब देश में हर क्षेत्र के उत्पादों को भारत में ही बनाने का प्रयास किया जा रहा है। जिससे देश आत्मनिर्भर हो सकें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

14 + = 20