विकास दुबे एनकाउंटर पर बनी कार्टून फ़िल्म

उत्तर प्रदेश में विकास दुबे एनकाउंटर को लेकर जिस तरह सवाल पर सवाल खड़े होते जा रहें हैं। वहीं एनकाउंटर की कहानी सोशल मीडिया पर कार्टून बनकर दर्शायी जाने लगी है। कुछ ऐसी ही एक कार्टून फ़िल्म कानपुर से वॉयरल हो रही है। जो चर्चा का विषय बन चुकी है।

क्योंकि इस कार्टून फ़िल्म में भी यह दर्शाया जा रहा है कि 8 पुलिस वालों की हत्या के आरोपी विकास ने उज्जैन में सरेंडर किया था। लेकिन यूपी पुलिस ने अपनी कस्टडी में लेने के बाद जैसे ही कानपुर की धरती पर कदम रखा। वैसे ही एनकाउंटर की कहानी को अंजाम दे डाला।

आगे की फ़िल्म में दर्शाया गया है कि एनकाउंटर के बाद जैसे ही मीडिया का ऑन द स्पॉट पहुँचना होता है तो शुरू हो जाता है,सवालों का सिलसिला। जिसमें कार्टून के जरिये पत्रकार और पुलिस के सवाल जवाब दर्शाया गया।

पुलिस के जवाब में बताई गई विकास दुबे एनकाउंटर की कहानी,,, कहा गया गोली लगने के बाद भाग रहा था विकास दुबे,,, पत्रकार ने कहा एक पैर से कमजोर था विकास तो पैर में क्यों नही मारी गोली,,, तो पुलिस वाले ने कहा सीने में गोली मारने से डैमेज होता है ज्यादा,,, जिसपर सवाल करते हुए पत्रकार ने पूछा गाड़ी कैसे पलटी तो पुलिस ने कहा सामने से गाय आ रही थी,,, जिसको देख हाथ जोड़कर प्रणाम करने लगा था गाड़ी का चालक सिपाही तो पलट गई थी गाड़ी,,, बस क्या था,,, आगे सवाल पूछने पर पुलिस वाला देने लगा धमकी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 + 2 =