सपा विधायक जवाहर पंडित हत्याकांड का कोर्ट करेगी आज फैसला

उत्तर प्रदेश के जिला प्रयागराज काफी दिन तक चर्चा में रहा सपा विधायक जवाहर यादव पंडित हत्याकांड मामले में आज ट्रायल कोर्ट अपना फैसला सुनाएगी। इस मामले में सभी पक्षों की बहस और दलीलें सुनने के बाद कोर्ट ने 18 अक्टूबर को फैसला सुरक्षित कर लिया था। कोर्ट ने फैसला सुनाने के लिए आज 31 तारीख तय की गई है। जवाहर पंडित हत्याकांड के फैसले को लेकर उनकी पत्नी पूर्व विधायक विजमा यादव के साथ ही उनके बच्चों और उनके समर्थकों की भी कोर्ट के फैसले का इंतजार है।

23 साल पहले की गई थी हत्या

बता दे की जवाहर पंडित की हत्या में शामिल पूर्व सांसद कपिलमुनि करवरिया, उनके भाई पूर्व विधायक उदय भान करवरिया, पूर्व एमएलसी सूरजभान करवरिया और राम चंद्र त्रिपाठी आरोपी हैं। झूंसी विधानसभा से सपा विधायक जवाहर यादव पंडित की हत्या 23 साल पहले 13 अगस्त 1996 को सिविल लाइन्स में पैलेस सिनेमा और कॉफी हाउस के बीच एके 47 रायफल से गोलियां बरसाकर की गई थी।

हमें कोर्ट के फैसले पर पूरा भरोसा है, विजमा यादव

जानकारी के मुताबिक पता चला है की जवाहर पंडित की पत्नी और पूर्व विधायक विजमा यादव ने कहा है कि उन्हें अदालत पर पूरा भरोसा है। उन्हें न्याय जरूर मिलेगा। उन्होंने कहा अब तक की 23 सालों तक अदालत में चली लम्बी कानूनी लड़ाई और अपने संघर्षों को याद करते हुए उनकी आंखें भी नम हो जाती हैं। विधायक की पत्नी ने विधायक की हत्या पर सिविल लाइंस थाने में करवरिया बंधुओं के खिलाफ नामजद मुकदमा दर्ज कराया गया था। सिविल लाइन्स थाने के बाद मुकदमे की विवेचना सीबीसीआईडी ने भी की और आरोप पत्र कोर्ट में पेश किया था। मुकदमे के दौरान कुछ साल तक हाईकोर्ट के आदेश के चलते मुकदमे की सुनवाई भी नहीं हो सकी थी।