लखनऊ की सड़कों पर चलाया गया ‘ऑपरेशन मिडनाइट’

  • 796 वाहन चेक करते हुए 43 वाहनों के खिलाफ एमवी एक्ट के तहत की गई कार्यवाही
  • करीब 1187 लोगों से की गई पूछताक्ष और चेक हुई उनकी आईडी

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ‘ऑपरेशन मिडनाइट’ चल रहा है। लखनऊ के पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी के निर्देशन में त्योहारों के मद्देनज़र यह ऑपरेशन क्राइम को कंट्रोल करने के मकसद से किया जा रहा है। इस अभियान में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक खुद बागडोर संभाल रहे हैं।

जनपद लखनऊ के विभिन्न थाना क्षेत्रों में लगभग 69 जगहों पर 6 तथा 7 अक्टूबर को रात के 12:00 बजे से 2:00 बजे तक चेकिंग अभियान चलाया गया। इन सभी स्थानों पर भारी पुलिस बल के साथ ऑपरेशन मिडनाइट अभियान के दौरान चेकिंग हुई जहाँ पर संदिग्ध वाहनों तथा व्यक्तियों की चेकिंग, भीड़ भाड़ वाली जगहों, ढाबों तथा होटलों, धर्मशाला तथा सराएँ, रेलवे स्टेशन तथा बस स्टॉप के आस पास, स्टैंड और सुनसान वाले स्थानों पर जहां लोगों का आना जाना ज़्यादा है।

चेकिंग के दौरान बाइक सवार को पीछे से पकड़ना महिला पुलिसकर्मी को पड़ा महंगा

क्षेत्राधिकारी तथा पर्यवेक्षण पुलिस अधीक्षक ने खुद इस अभियान में मौजूद रहकर संदिग्ध लोगों और संदिग्ध वाहनों की चेकिंग की और आने जाने वालों से पूछताछ भी किया। इस दौरान उन्होंने लगभग 1187 लोगों से पूछताछ किया और उनके वाहनों की तलाशी ली तथा उन लोगों की आई डी भी देखा। साथ ही दर्जनों वाहनों के खिलाफ सुसंगत धाराओं के तहत कार्यवाही किया और पूछताछ करते हुए दर्जनों लोगों को हिरासत में लेकर कार्याही किया। अभियान में छोटे बड़े मिलाकर कुल 796 वाहनों चेक किया गया और 43 वाहनों के खिलाफ एमवी एक्ट की कार्यवाही हुई। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने कहा है कि ‘ओप्रशन मिडनाइट’ लखनऊ में लगातार चलता रहेगा।