विश्व धरोहर दिवस पर मंत्री मोहसिन रजा पहुंचे क्लॉक टावर

google

विश्व धरोहर दिवस पर मंत्री मोहसिन रजा क्लॉक टावर पहुंचे। वहाँ पहुँच कर मोहसिन रजा ने पुरानी इमारतों का निरीक्षण किया। इसके साथ ही उन्होंने विश्व धरोहर दिवस के बारे में भी बताया। उन्होंने कहा की इस दिवस को मनाने का मुख्य उद्देश्य यह है कि पूरे विश्व में मानव सभ्यता से जुड़े ऐतिहासिक और सांस्कृतिक स्थलों के संरक्षण के प्रति जागरूकता लाई जा सके।उन्होंने बताया की संयुक्त राष्ट्र की संस्था यूनेस्को की पहल पर एक अंतर्राष्ट्रीय संधि की गई।

उन्होंने बताया की वर्ष 1982 में इकोमार्क नामक संस्था ने ट्यूनिशिया में अंतर्राष्ट्रीय स्मारक और स्थल दिवस का आयोजन किया तथा उस सम्मेलन में यह भी बात उठी कि विश्व भर में किसी प्रकार के दिवस का आयोजन किया जाना चाहिए। यूनेस्को की महासम्मेलन में इसके अनुमोदन के पश्चात 18 अप्रैल को विश्व धरोहर दिवस के रूप में मनाने के लिए घोषणा की गई।

तभी से हमारे देश में विश्व धरोहर दिवस मनाया जाने लगा। इस दौरान वे हेरिटेज जोन क्लॉक टावर और सतखंडा में गंदगी और अधूरे कामों को देखकर भड़के तथा बदहाली का शिकार ऐतिहासिक इमारतों क़ो देखकर अधिकारियों पर जम कर बरसे। इसके साथ ही उन्होंने 2 माह के अंदर सभी अधूरे और सुंदरीकरण के कामों को पूरा करने का आदेश दिया।