मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक में मौलाना ख़ालिद राशिद का बयान

आज आल इण्डिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की अहम बैठक हो रही है जिसमे पर्सनल लॉ बोर्ड मुस्लिम समाज से जुड़े कई मसलों पर चर्चा करेगा। जिसमे सबसे अहम् मुद्दा बाबरी मस्जिद का है जो SC में विचाराधीन है। बैठक में बाबरी मस्जिद केस के आगे की रणनीति पर चर्चा की जाएगी। इन सबके अलावा यूनिफॉर्म सिविल कोड तथा तीन तलाक का कानून जैसे गंभीर मुद्दों पर भी चर्चा की जाएगी।

आल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक असंवैधानिक: मोहसिन रजा

बैठक में बोले मौलाना ख़ालिद राशिद-

मौलाना ख़ालिद राशिद फिरंगी महली ने बैठा को सम्बोदित करते हुए कहा हिन्दुस्तान एक आज़ाद मुल्क है। और यहाँ संविधान ने हर आदमी को अपनी राय रखने का हक़ दिया है। जिन लोगों ने बाबरी मस्जिद पर अपनी राय रखी उनकी अपनी राय है। लेकिन जो पार्टीज अदालत में है उनकी राय ही मायने रखती है।

उन्होंने आगे कहा सवाल ये है कि हमेशा मुतालवा मुसलमानो से ही क्यों किया जाता है। एक ही पक्ष से भाई-चारे कि बात क्यों क्यों कही जाती है? हमारी ही मस्जिद शहीद की गई और हमसे ही कहा जाता है। ये अफसोसनाक है।