धरना दे रहे लेखपालों को वकीलों ने लाठी डंडों से पीटा

उत्तर प्रदेश के कन्नौज में लेखपालों और वकीलों के बीच लड़ाई लगातार बढ़ती जा रही है। लेखपालों और अधिवक्ताओं के बीच छिबरामऊ में 3 दिन पहले किसी बात को लेकर मारपीट हो गई थी। इस मारपीट को लेकर पुलिस ने लेखपालों के ऊपर गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया। जिसके चलते मंगलवार को लेखपालों ने कन्नौज के डीएम के सामने कलेक्ट्रेट भवन में धरना प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी भी की।

धरना प्रदर्शन कर रहे इन लेखपालों पर लाठी डंडों से लैस वकीलों के एक समूह ने मारपीट की और AdM ऑफिस में तोड़फोड़ भी की। इस मारपीट में खुद डीएम ने स्टेनों ऑफिस में घुस कर अपने आप को बचाया।

लेखपालों की तीन दिवसीय प्रदेश व्यापी हड़ताल आज से शुरू

लेखपाल संघ के अध्यक्ष अखिलेश मिश्र ने कहा कि लेखपालों की सुरक्षा के लिए जनपद कन्नौज की तीनों तहसीलों में सुरक्षा व्यवस्था का इंतज़ाम किया जाए। उन्होंने जिलाधिकारी पर आरोप लगते हुए कहा है कि जिलाधिकारी के लचर रवैये के कारण लेखपालों के साथ मारपीट हुई है। यदि वह पीएसी तथा पुलिस बल भेज देते तो यह घटना ना होती। लेखपालों ने मांग की है कि हड़ताल तभी ख़त्म होगी जब जिलाधिकारी का स्थानांतरण किया जाएगा।