आजम खान की अग्रिम जमानत की मांग याचिका पर हुई सुनवाई

google

सपा सांसद आजम खां के खिलाफ दर्ज 13 मामलों की अग्रिम जमानत की मांग याचिका पर सुनवाई हुई। सांसद की ओर से सुप्रीम कोर्ट के अधिवक्ता ने बहस की। हालांकि जमानत पर कोई फैसला नहीं हो सका। आपको बता दे की हाईकोर्ट में राज्य सरकार ने हलफनामा दाखिल किया है। लेकिन कोर्ट अभी इस हलफनामे से संतुष्ट नहीं है। इसलिए कोर्ट ने 4 हफ्ते में फिर से हलफनामा मांगा है।

युवा कांग्रेस की महिलाओं ने किया धरना

सूत्रों के मुताबिक अब 7 जनवरी को इस मामले की अगली सुनवाई होगी। तबतक के लिए 7 जनवरी तक आजम खान की गिरफ्तारी पर रोक रहेगी।बता दे की आजम खान पर दर्ज 13 मामलों को लेकर अर्जी यह है। जिनमे से सात मामले यतीम खाने पर अवैध कब्जे को लेकर दर्ज कराये गये थे। छह मामले चुनाव आचार संहिता उल्लंघन में दर्ज हुए थे और बाकि मामला मुर्गी और बकरी चोरी के आरोप में दर्ज हुआ था।

इसके साथ ही उनके ऊपर पूर्व सांसद जयप्रदा पर चुनाव के दौरान अभद्र टिप्पणी का भी एक मामला दर्ज है। इन सारे मामले के बावजूद अभी उनकी गिरफ्तारी पर रोक की याचिकाओं में मांग की गई है।इस मामले की सुनवाई जस्टिस यशवंत वर्मा की एकल पीठ में हुई है। लेकिन इस दौरान तीन अन्य अर्जियों पर चीफ जस्टिस कोर्ट में आज सुनवाई नहीं हो सकी।