राजधानी में दशहरा की छाई धूम, पाकिस्तान के आतंकवाद रूपी रावण का आज होगा दहन

● ऐशबाग रामलीला ग्राउंड में आज 9 बजे होगा रावण दहन
● रावण के साथ कुम्भकर्ण और मेघनाथ का भी होगा दहन
● यूपी की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र होंगे शामिल
● सीसीटीवी के साथ ड्रोन कैमरे की निगरानी में संदिग्ध लोगों पर पुलिस की रहेगी नजरआज पूरे देश में दशहरे की धूम मची हुई है। सभी जगह रामलीला हो रही है और रात को रावण दहन की तैयारियाँ की जा रही है। इसी तरह हमारे उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में भी दुर्गा पूजा और दशहरे की धूम छाई हुई है। दशहरा का धार्मिक महत्‍व तो है ही लेकिन यह त्‍योहार आज भी बेहद प्रासंगिक है। यह पर्व बुराई पर अच्‍छाई का प्रतीक है। आज भी कई बुराइयों के रूप में रावण जिंदा है। यह त्‍योहार हमें हर साल याद दिलाता है कि हम बुराई रूपी रावण का नाश करके ही जीवन को बेहतर बना सकते हैं।

महंगाई, भ्रष्‍टाचार, व्‍यभिचार, बेईमानी, हिंसा, भेदभाव, ईर्ष्‍या-द्वेष, पर्यावरण प्रदूषण, यौन हिंसा और यौन शोषण जैसी तमाम ऐसी बुराइयां हैं। जो आज भी अपना अट्टहास कर मानवता और सभ्‍य समाज को चुनौती दे रही हैं। ऐसे में जरूरी है कि हम दशहरा के दिन इनको जड़ से खत्‍म करने का संकल्‍प लें। तभी हम सही मायनों में दशहरा की महत्ता को समझ पाएंगे।

ऐशबाग रामलीला ग्राउंड में 9 बजे रावण दहन होगा। पाकिस्तानी आतंकवाद और प्लास्टिक बैन की थीम पर विशालकाय 121 फिट का रावण जलेगा। इस कार्यक्रम में यूपी की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र, डिप्टी सीएम, दिनेश शर्मा, कैबिनेट मंत्री बृजेश पाठक, आशुतोष टण्डन, मेयर संयुक्ता भाटिया शामिल होंगे। आयोजन में हजारों की संख्या में लोग शामिल होंगे।

दशहरे के दिन माँ प्रसन्न कैसे होंगी और क्या करने से होगा आपको लाभ, पढ़े ये उपाय

राजधानी में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम 

जनता की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए एसएसपी कलानिधि नैथानी ने राजधानी में आज 410 सिपाही, 175 उपनिरीक्षक, 27 महिला पुलिसकर्मी, 317 हेड कांस्टेबल, 660 आरक्षी, 128 महिला आरक्षी और 4 कम्पनी पीएसी , एलआईयू टीम को तैनात किया है। सीसीटीवी के साथ ड्रोन कैमरे की निगरानी में संदिग्ध लोगों पर पुलिस की नजर रहेगी।