स्वच्छता एवं पॉलीथिन उन्मूलन पुस्तक वितरण सम्मान समारोह हुआ प्रारम्भ

राजधानी की सबसे बड़ी गैर सरकारी शैक्षिक संस्था विद्या भारती ने पूर्वी उत्तर प्रदेश के विद्यालयों में सोमवार से पर्यावरण जागरूकता अभियान शुरू किया है। इस अभियान के तहत कुल 1100 विद्यालयों के 4 लाख बच्चों के बीच प्रतियगोतिओं का विभिन्न स्तरों पर आयोजन किया गया। स्वच्छता और पॉलीथिन उन्मूलन के विषय पर होने वाले ये प्रतियोगिताएं पूरे एक माह तक चलेंगी। यह प्रतियोगिताएं चार चरणो में आयोजित की गई है । सबसे पहले विद्यालय स्तर पर फिर संभाग स्तर पर और फिर प्रांत स्तर पर और अंत में क्षेत्र स्तर पर पर इनका आयोजन होगा। हर स्तर पर विजेताओं को प्रोत्साहित करने के लिए पुरस्कृत किया गया।

राजधानी में तीन दिवसीय कार्यक्रम ‘स्वच्छता एवं पॉलीथिन उन्मूलन’ का आयोजन निरालानगर स्थित माधव सभागार में किया गया। जहां स्वच्छता अभियान कार्यक्रम में पुरस्कार वितरण एवं सम्मान समारोह हुआ। वहीं इस कार्यक्रम में कई मन्त्री, विशिष्ट जन शामिल हुए। यह कार्यक्रम संयोजक माधवेन्द्र प्रताप सिंह विधायक के नेतृत्व में हुआ। इस कार्यक्रम में मंत्री सुरेश खन्ना, आशुतोष टण्डन, डॉ. महेंद्र सिंह, दारा सिंह चौहान, सतीश चंद्र द्विवेदी मौजूद रहे।

चार चरणों में हुई प्रतियोगिता

इस प्रतियोगिता का पहला राउंड 26 अगस्त से 9 सितंबर के बीच और दूसरा राउंड 10 से 16 सितंबर के बीच हुआ। वहीं, तीसरा राउंड 18 सितंबर से 23 सितंबर तक पूरा किया गया और अंतिम चौथे राउंड में फाइनल प्रतियोगिता 29 सितंबर को पूरा हुआ। इस प्रतियोगिता के विजेताओं को 30 सितम्बर को लखनऊ में आयोजित पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्य अतिथियों द्वारा पुरस्कृत किया गया । इस अवसर पर बतौर मुख्य वक्ता भारत सरकार के आवास एवं शहरी विकास विभाग के सचिव दुर्गा शंकर मिश्र बच्चों को विषय के महत्व से परिचित करवाया।

इंदिरा नगर के इरम डिग्री कॉलेज में मेघावी छात्र और शिक्षकों के सम्मान का कार्यक्रम

विद्या भारती के इस बड़े आयोजन का संयोजन यूनाइट फाउण्डेशन के उपाध्यक्ष राधेश्याम दीक्षित के मुताबिक प्रतियोगिताओं के माध्यम से बच्चों को दायित्वबोध करवाना और बच्चों के बीच सामाजिक चुनौतियों के प्रति चेतना जागृति अहम मकसद है। इसीलिए इस अभियान में बच्चों को वैज्ञानिक सोच से जोड़ने के लिए, ललित कलाओं के प्रति जागरूकता का विस्त्तार करने के लिए राष्ट्रीय ललित कला अकादमी और हमारी विरासत की रक्षा और उससे जोड़ने का कार्य राष्ट्रीय सांस्कृतिक संपदा संरक्षण अनुसंधानशाला करेगी। सभी विजेताओं को इन संस्थाओं के विशेषज्ञ प्रशिक्षण देंगे और यूनाइट फाउण्डेशन चयनित बच्चों को ‘यू केयर क्लब’ का सदस्य बनाएगी। विद्या भारती और यूनाइट फाउण्डेशन के इस साझा अभियान को व्यापक समर्थन हासिल हो रहा है।

बता दें कि विद्या भारती पूर्वी उत्तर प्रदेश के द्वारा 26 अगस्त से ‘स्वच्छता एवं पॉलीथिन उन्मूलन’ विषयक प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसकी अंतिम व निर्णायक स्तर रविवार को निराला नगर स्थित सरस्वती शिशु मंदिर में संपन्न हुआ। यह राज्य स्तरीय प्रतियोगिता जल, जंगल, जीव और जमीन के प्रति व्यापक जन जागृति और भागीदारी बढ़ाने के उद्देश्य से विभिन्न स्तरों पर संचालित किया गया था। जिसका पुरस्कार वितरण व सम्मान समारोह सोमवार को निरालानगर स्थित माधव सभागार में संपन्न हुआ।