सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद छावनी में तब्दील अयोध्या

  • दस हजार से अधिक अतिरिक्त फोर्स आने की संभावना
  • सुरक्षा बलों के लिये दो सौ विद्यालयों में बनेगे ठिकाने

मंदिर-मस्जिद विवाद को लेकर सुप्रीम कोर्ट के संभावित फैसले के मद्देनजर सुरक्षा व्यव्स्था की तैयारी तेज कर दी गयी है। कोर्ट का फैसला चाहे कुछ भी हो लेकीन प्रशासन हर परिस्थिति से निपटने के लिए तैयारियों में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहता। इसलिये प्रयाप्त इन्तजाम किये जा रहे हैं ताकि किसी प्रकार की कोई समस्या ना होने पाये। फोर्स के ठहरने के लिये ठिकानो को चिह्नित किया जा रहे हैं।इसके लिए माध्यमिक शिक्षा विभाग से लगभग दो सौ विद्यालयों का नाम मांगा गया है।

पूरे अयोध्या में हाई अलर्ट : राम जन्मभूमि विवाद

बता दें कि शिक्षा विभाग के पास चार सौ से जादा विद्यालय हैं। जिनमें से लगभग दो सौ विद्यालय मागे गये हैं। जिसमें सुरक्षा बलों के ठहरने की व्यव्स्था की जायेगी। तहसीलवार विद्यालय चिन्हित किए जा रहे हैं, और जिला प्रशासन स्कूल, कॉलेज, बड़े गोदाम व बड़े मंदिरों के जिम्मेदार लोगों से संपर्क कर स्थान आरक्षित करने की तैयारी कर रहा है। कुछ स्थान चिन्हित हो चुके हैं। माना जा रहा है कि कोर्ट के फैसले के मद्देनजर लगभग दस हजार से अधिक अतिरिक्त फोर्स आने की संभावना जताई जा रही है। संवेदनशीलता को देखते हुए दीपोत्सव के पहले शिक्षा विभाग के जिला विद्यालय निरीक्षक आरबीएस चौहान कहना है कि विद्यालयों की सूची जल्द ही प्रशासन को सौंप दी जायेगी।