राजधानी के व्यापारियों ने ऑनलाइन कंपनियों के खिलाफ किया धरना प्रदर्शन

google

राजधानी लखनऊ के व्यापारियों ने जीपीओ गांधी प्रतिमा हजरतगंज पर आज उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल एवं कनफेडरेशन ऑफ ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स के बैनर तले उत्तर प्रदेश आदर्श व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष एवं व्यापार मंत्री संजय गुप्ता के नेतृत्व में धरना प्रदर्शन किया। तथा जिला प्रशासन के माध्यम से प्रधानमंत्री को ज्ञापन भेजा। धरने को संबोधित करते हुए व्यापारी नेता संजय गुप्ता ने कहा अमेजॉन फ्लिपकार्ट वॉलमार्ट जैसी कंपनियां भारत सरकार द्वारा विदेशी पूंजी निवेश नीति के अंतर्गत दी गई शर्तों का खुला उल्लंघन कर रही है।

भारी मात्रा में व्यापार कर रही है ऑनलाइन कम्पनियाँ

संजय गुप्ता ने कहा की साथ ही साथ कंपटीशन एक्ट का भी उल्लंघन करते हुए एक्ट की धज्जियां उड़ा रही हैं। क्योंकि भारत विश्व का सबसे बड़ा उपभोक्ता बाजार है। इस पर अपना पूर्णतया कब्जा जमाने के लिए सुनियोजित तरीके से षड्यंत्र करते हुए भारी मात्रा में घाटा खाकर भी व्यापार कर रही है। उन्होंने कहा क्योंकि इन कंपनियों की आर्थिक क्षमता बहुत है।

विदेशी ऑनलाइन व्यापार के खिलाफ भारत बंद करेंगे व्यापारी

भारत को कई सालों तक विदेशी कंपनियों की करनी पड़ी थी गुलामी

कई हजार करोड़ की पूंजी है ऐसे में कुछ साल घाटा खाकर भारत के परंपरागत व्यापारियों का बाजार तबाह करने तथा व्यापारियों को जड़ से उखाड़ने के बाद यह कंपनियां अपने असली रूप में आएंगी। साथ ही साथ यह भी जांच और चिंता का विषय है कि इन कंपनियों का पीछे से आय का स्रोत क्या है। क्योकि विदेशी शक्तियां भारत में बाज़ार मार्ग से पहले भी एक बार ईस्ट इंडिया कंपनी के रूप में प्रवेश कर चुकी हैं। जिसका खामियाजा भारत को कई सालों की गुलामी के रूप में चुकाना पड़ा था।

व्यापारियों का व्यापार बचाने हेतु इन कंपनियों पर अंकुश लगाना है जरुरी

उन्होंने कहा वालमार्ट को होलसेल व्यापार की अनुमति मिली है लेकिन वह भी ख़तम तरीके से रिटेल व्यापार कर रही है। यदि भारत के व्यापारियों का व्यापार बचाने हेतु इन कंपनियों पर अंकुश नहीं लगाया गया तो देश के 7 करोड़ व्यापारियों के सामने रोजी-रोटी का संकट आ जाएगा। उनसे जुड़े हुए कई करोड़ कर्मचारियों के सामने भी बेरोजगारी की भयावह स्थिति उत्पन्न हो जाएगी। बैंकों के एनपीए और बढ़ जाएंगे। लोग आपस में पैसा ना होने के कारण वायदा खिलाफी करेंगे तथा सरकारी भुगतान अदा करने तथा परिवारों के पालन पोषण में असफल हो जाएंग। व्यापारी नेता संजय गुप्ता ने प्रधानमंत्री को संबोधित ज्ञापन जिला प्रशासन के अधिकारियों को सौंपा जिसमें इन कंपनियों पर अंकुश लगाने तथा भारत के व्यापारियों के व्यापार को बचाने की मांग की गई है।

भारी संख्या में मौजूद रहे राजधानी के व्यापारी

धरना प्रदर्शन में संगठन के प्रदेश कोषाध्यक्ष मोहम्मद अफजल, प्रदेश उपाध्यक्ष अविनाश त्रिपाठी ,प्रदेश उपाध्यक्ष एवं मीडिया प्रभारी इकबाल हसन, आसिफ किदवई ,नगर अध्यक्ष हरजिंदर सिंह ,नगर वरिष्ठ महामंत्री दीपक लांबा, महामंत्री विजय कनौजिया ,महामंत्री संजय त्रिवेदी ,नगर उपाध्यक्ष डॉ साकेत चतुर्वेदी,राजा राम रावत, मोहम्मद खालिद, सतीश मौर्य ,मोहन वर्मा ,रिंग रोड अध्यक्ष श्याम जी शर्मा ,पंकज अरोड़ा,सहित राजधानी की कई बाजारों के पदाधिकारी एवं व्यापारी भारी संख्या में शामिल थे।