लेखपालों की तीन दिवसीय प्रदेश व्यापी हड़ताल आज से शुरू

उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ कन्नौज में अधिवक्ताओं द्वारा महिला लेखपाल के साथ मारपीट के विरोध में बुधवार से हड़ताल पर रहेगा। इस दौरान प्रदेशभर के तहसीलों में प्रदर्शन कर धरना भी देंगे।

उत्तर प्रदेश लेखपाल संघ के महामंत्री ब्रजेश कुमार श्रीवास्तव के मुताबिक कन्नौज के तहसील छिबरामऊ में प्रमाणपत्र पर जबरन रिपोर्ट लगवाने के लिए महिला लेखपाल से अधिवक्ता ने मारपीट की और बंधक बना लिया। मामले में अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। इसको लेकर प्रदेश संघ के आह्वान पर तहसील संघ ने हड़ताल शुरू कर दी।

तहसील परिसर में लेखपालों का धरना प्रदर्शन

लेखपालों ने प्रदर्शन कर कहा कि दोषी अधिवक्ताओं की तत्काल गिरफ्तारी कराई जाए। घटना में शामिल अन्य अधिवक्ताओं के लाइसेंस निरस्त कराये जाय। प्रदेश के इच्छुक लेखपालों के शस्त्र लाइसेंस उपजिलाधिकारी की संस्तुति पर सीधे जारी करें। जनपद कन्नौज में लेखपालों के विरुद्ध दर्ज की गई फर्जी एफआइआर निरस्त कराई जाए और जिलाधिकारी कन्नौज का तत्काल स्थानान्तरण किया जाए।

ब्रजेश कुमार श्रीवास्तव ने जानकारी दी कि 25 से 27 सितंबर तक लेखपाल हड़ताल पर रहेंगे। इसके बाद आगे की रणनीति तय करेंगे। संघ ने दोषी अधिवक्ताओं की गिरफ्तारी, घटना में शामिल अधिवक्ताओं का लाइसेंस निरस्त करने, इच्छुक लेखपालों को शस्त्र लाइसेंस देने, कन्नौज में लेखपालों के खिलाफ दर्ज की गई फर्जी एफआईआर निरस्त करने, डीएम कन्नौज को तुरंत हटाने की मांग की है।