सुप्रीम कोर्ट ने मोदी सरकार से प्यूरीफायिंग टावर लगाने को कहा

delhi pollution
image source - google

दिल्ली का प्रदूषण कम होने का नाम नहीं ले रहा है। इसी को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट ने सुनवाई की और दिल्ली में प्रदुषण को कम करने के लिए मोदी सरकार से एयर प्यूरिफाइंग टावर लगाने को कहा। इससे पहले भी कोर्ट ने केंद्र सरकार को बढ़ते प्रदूषण को लेकर जल्द हल निकालने को कहा था। वहीँ दिल्ली में आज odd – even का आखरी दिन था पर प्रदुषण कम नहीं हुआ और कल से दिल्ली के स्कूल फिर खोले जा रहे है। आज ही दिल्ली में वायु गुणवत्ता 600 के पार रही। इस जहरीली हवा में दिल्ली के लोग साँस लेंगे तो उनके स्वास्थ्य पर इसका बुरा असर पड़ेगा।

सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार से पूछा की दिल्ली बुरी तरह वायु प्रदुषण से पीड़ित है। इस प्रदूषित हवा में लोग साँस कैसे लेंगे? इसपर दिल्ली सरकार की तरफ से पेस हुए वकील ने कहा की प्रदुषण में odd – even की वजह से 15 % तक की गिरावट हुई है। प्रदूषण में और गिरावट आएगी, यदि दो पहिया वाहनों पर भी ये नियम लागू कर दिया जाये। इसके बाद कोर्ट ने कहा की odd – even ही प्रदूषण को कम करने का समाधान नहीं है। इसके अलावा और भी तरीके हो सकते है,जिससे प्रदूषण को कम किया जा सके। बता दें दिल्ली में इस समय वायु की गुणवत्ता सबसे ख़राब है जिसकी वजह से लोग घरों में भी सुरक्षित नहीं है। दिल्ली में साँस लेना एक दिन में 20 सिगरेट पीने के बराबर हो गया है।