चार गुनी हुई भारतीय रेल की सुरक्षा, जाने क्या हुए बदलाव।

रेल में सफर करने वाले यात्रियों के लिए एक बहुत बड़ी खुशखबरी है सरकार ने रेलवे की सुरक्षा को देखते हुए कोरस यूनिट का गठन किया है जो रेल यात्रियों की तथा रेलवे की सुरक्षा को 4 गुना अधिक मजबूत कर देगा, और सभी रेल यात्री निडर होकर रेल यात्रा कर सकेंगे।

क्या है कोरस 

कोरस युवा कमांडो की एक यूनिट है जो आधुनिक उपकरणों से पूरी तरह से लैस है जिसका काम आतंकवाद, उग्रवाद, अपहरण, रेल संचालन में व्यवधान, किसी प्रकार के हमले, बंधक आदि जैसे बड़े खतरों से निपटना है। कोरस प्रतिष्ठित संस्थानों से प्रशिक्षित है। कोरस कमांडो की एक ऐसी यूनिट है जो किसी भी प्रकार की चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों से तथा अनिश्चित खतरों से निपटने के लिए सक्षम है, इस यूनिट का खासतौर से गठन रेलवे के लिए किया गया है जो हर तरह के खतरों से निपटने के लिए सक्षम है।

यूपी में कांग्रेस को लगा बड़ा झटका, भाजपा में शामिल हुई राजकुमारी रत्ना सिंह

रेल मंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारी

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने इसकी जानकारी ट्विटर के जरिए दी जिसमें उन्होंने लिखा कि “देश आज आंतरिक व बाहरी सभी प्रकार के खतरों से सुरक्षित हैं। इसी क्रम में रेलवे ने यात्रियों की सुरक्षा हेतु कोरस (कमांडोज फॉर रेलवे सिक्योरिटी) का गठन किया है। जो बेहतरीन प्रशिक्षण आधुनिक हथियारों से सुसज्जित युवा कमांडोज की यह यूनिट सभी प्रकार के खतरों से निपटने के लिए सक्षम है।”

यह ट्वीट करते हुए रेल मंत्री पीयूष गोयल ने कोरस कमांडोस की एक शार्ट वीडियो शेयर की जिसमें दिखाया गया है कि किस तरह विभिन्न तरह की परिस्थितियों व मुसीबतों से निपटने के लिए कोरस सक्षम है।