धारा 144 का पालन न करने पर हो सकती है ये सजा

section 144

आपने अक्सर ये देखा होगा की जब देश में या प्रदेश में किसी भी प्रकार से या किसी गतिविधि के चलते माहौल बिगड़ गया हो या किसी दुर्घटना या काण्ड से शहर में संवेदनशीलता आ गयी हो तो ऐसे वक़्त पर पुलिस के द्वारा शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए वहां धरा 144 लागू कर देती है। लेकिन क्या आपको पता है की ये धारा 144 क्या है और इसका पालन न करने पर क्या सजा हो सकती है ? तो चलिए आज हम आपको बताते हैं।

क्या है धारा 144-

आपको बता दें की सीआरपीसी के तहत आने वाली जो धारा-144 है वह विशेषकर शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए लागू की जाती है और इस धारा 144 को लागू करने के लिए जिला मजिस्ट्रेट यानी जिलाधिकारी को एक नोटिफिकेशन जारी करनी पड़ती है , और जिस स्थान पर यह धारा लगाई जाती है, वहां जगह पर चार या उससे ज्यादा लोग एक साथ इकट्ठे नहीं हो सकते हैं। और जहाँ पर यह धारा लागू हो जाती है वहां पर यानि उस स्थान पर हथियारों के लाने ले जाने पर भी रोक लगा दी जाती है।

अयोध्या में धारा 144 लागू, फैसले को लेकर पुलिस चौकन्ना

उल्लंघन करने वाले को हॉप सकती है ये सजा-

यदि किसी भी व्यक्ति ने इस धारा का उल्लंघन किया या इसका पालन नहीं किया तो उसे पुलिस गिरफ्तार कर सकती है और यह गिरफ्तारी धारा-107 या फिर धारा-151 के तहत ही होगी। अगर इस धारा का किसी ने उल्लंघन किया या पालन नहीं किया तो ऐसे आरोपी को एक साल कैद की सजा भी हो सकती है। हालांकि यह एक जमानती अपराध है, इसमें जमानत हो जाती है।