बहुत ही सकारात्मक चर्चा दोनों सदनों में हुई : मुख्यमंत्री

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सुबह 10:00 बजे से विधानमंडल में अपना सम्बोधन शुरू किया। इस दौरान उन्होंने कई महत्वपूर्ण बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा किया। मुख्य सचिव की अध्यक्षता में सतत विकास के बिंदुओं पर प्रगति प्राप्त किये जाने के प्रयास के विषय में कमेटी का गठन हुआ है जो लगातार इन कार्यों की समीक्षा करेगा। समिति में मुख्य सचिव, अपर मुख्य सचिव नियोजन तथा कई विभागों के सचिव हैं । इसमें ग्राम विकास, नगर विकास, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, माध्यमिक शिक्षा उद्योग, बेसिक शिक्षा, नगर विकास पर्यावरण, पंचायती राज विभाग का योगदान भी रहेगा।

पूर्व कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष राज बब्बर ने किया खेद व्यक्त

मुख्यमंत्री ने विधानमंडल में कहा

  1. अगर इस सदन में गरीबी, इन्फ्रास्ट्रक्चर के बारे में बात नही कर सकते है तो लोकतंत्र के मायने बदल जाते है। सदन इन्ही बातों के लिए बना हुआ है।
  2. विपक्ष पहले बोलने को लेकर बात करता था लेकिन जब उनको बोलने के लिए कहा गया तो वे 9-2-11 हो गए।
  3. जनता ने बहुत सोच समझ कर वोट दिया है । जिन लोगो के लिए सिर्फ परिवारवाद और जातिवाद ही सब कुछ है, उनको जनता ने भी नकार दिया।
  4. बहुत ही सकारात्मक चर्चा दोनो सदनों में हुई है। चर्चा ने साबित कर दिया है कि कहाँ सुमति है कहाँ कुमति है।
  5. पूरा सदन जनता है कि 2003 से लेकर 2017 तक प्रदेश में किसी भी पीड़ित को राहत नही मिलती थी।
  6. पहले राहत कार्य भी बुरी तरह से होता था। मैंने आते ही राहत आयुक्त को चीज़ों को बदलने का निर्देश दिया।
  7. राहत कार्य के लिए पैसा पहले भी जाता था लेकिन अब काम होता है।
  8. गरीबों के हक पर पहले की सरकार डकैती डालती थी।
  9. जो लोग हमेशा चर्चा से भागे है उनके लिए लोकतंत्र सिर्फ  परिवारवाद था।
  10. मैं मानता था कि गांधी जी की जयंती पर कांग्रेस जरूर आएगी, लेकिन कांग्रेस भी नही आई। देंश के एक परिवार ने सबको अपनी बपौती मान रखी है।
  11. निवारण की कला के लिए ही हमारी सरकार IIM से जुड़ी थी।
  12. दीनदयाल जी ने कहा था कि आर्थिक प्रगति का माप सीढ़ी के ऊपर के आदमी से नही हो सकती बलिक सीढ़ी के नीचे के आदमी से होती है।
  13. क्या गांधी जी से कांग्रेस ने सिर्फ इतना ही सीखा है। पर अब जनता सब जान चुकी है। ये सिर्फ नज़ारा देख रहे।
  14. लोकतंत्र संवाद से चलता है ।
  15. हमे समाज को मुद्दों से अवगत कराना ही होगा , समाज का कोई तबका कमजोर है तो उसे आगे बढ़ाना काम है , यह जिम्मेदारी है। जो बदहाल है उसके जीवन को आगे बढ़ाने का काम करे । जिनके पास कोई साधन नही है उसे साधन युक्त करे उसी दिशा में यह एक प्रयाश था।
  16. देश की सरकार पर ही सब कुछ नही छोड़ा नही जा सकता है, राज्यो की भी ज़िम्मेदारी है।
  17. आज उत्तर प्रदेश सतत विकास के लक्ष्य में आगे बढ़ रहा है, और इसी क्रम में हमने सत्र की शुरुवात की थी।
  18. हमे सोचना होगा कि हमे आगामी पीढ़ी के लिए क्या करना है।
  19. भारत जैसे देश मे सतत विकास के लक्ष्यों को पाने की अभिलाषा हमेशा से रही है।
  20. दोनो सदनों में पिछले 36 घंटे में सभी सदस्यों ने विभागों में हुए काम और आगे के प्लानों के बारे में चर्चा की है।
  21. भारत सरकार द्वारा मिल रही मदद का लाभ जनता तक पहुचे इसके लिए सरकार द्वारा नए सत्र से कार्यवाही की गई है।
  22. इस चर्चा के माध्यम से विकास के लिए नई बाते निकल कर सामने आई है, जिससे प्रदेश सर्वांगीण विकास की ओर आगे बढ़ेगा।
  23. जहाँ ग़रीबी अधिक होगी वहाँ बीमारी अधिक होगी।
  24. हमने बेहतर स्वास्थ्य सुविधा उपलब्ध कराई है।
  25. पर्यावरण के क्षेत्र में भी हमें सजग रहना होगा।
  26. सतत विकास के मुद्दों पर देश उत्तर प्रदेश की तरफ देख रहा है।
  27. सतत विकास के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए हमने समितियों का गठन किया है।
  28. प्रदेश स्तर पर सतत विकास के लिए इंडेक्स की स्थापना की जाएगी , प्रदेश के विकास के लिए समुचित दिशा निर्देश जारी करना समय-समय सरकार द्वारा लिए गए निर्णय के साथ गोल अचीव करने पर कमेटी काम करेगी।
  29. 14लाख 60 हज़ार लोगो के पास अपना घर नही है, उनके लिए आवस की व्यवस्था करना या लिस्ट से छूटे हुए लोगो के लिए भी व्यस्था करने का लक्ष्य हम 2022 तक पूरा कर लेंगे।
  30. किसानों की आय को दुगना करना, ग़रीबों की पहचान कर विकास की मुख्य धारा से जोड़ने का काम सरकार कर रही है।
  31. माटी कला बोर्ड, कौशल विकास जैसी योजनाओ के साथ सरकार गोल के लिए लगातार काम कर रही है।
  32. प्रमुख सचिव ग्राम विकास की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया जा रहा जो कि ग़रीबी उन्मूलन के लिए काम करेगे । जिसकी मंत्री समीक्षा करेगे।
  33. किसान सम्मान निधि, साइल कार्ड  जैसी योजनाओ से हम किसानों को आगे बढ़ा रहे है।
  34. प्रदेश के अंदर किसानों की आय दुगना कराये जाने पर सरकार युद्ध स्तर पर काम कर रही है।
  35. 20 नए कर्षि विज्ञान केंद्रों पर काम चल रहा है।
  36. पोषण मिशन को सफल बनाने के लिए भी प्रदेश में बड़े स्तर पर काम हो रहा है।
  37. खाद्य की हो रही चोरी को रोकने में भी प्रदेश ने सफलता पाई है।
  38. प्रदेश के अंदर शिशु मृत्यु दर को गिराने में सरकार ने सफलता पाई है।
  39. 108, 102 के रिस्पांस टाइम को कम करने का काम भी प्रदेश में सफलता पूर्वक किया गया है।
  40. दवाओं को सस्ते में खरीदने के साथ साथ सभी जगहों पर दवाओं को उलपब्ध कराया जा रहा है।
  41. जिन छात्रों को हम मेडिकल कॉलेज में एडमिशन दे रहे है उनसे हम बांड भी भरवा रहे है कि सभी डॉक्टर ग्रामीण क्षेत्र में भी 2 साल सेवा देगे।
  42. शिक्षा के सभी क्षेत्रों में बहुत ही समय तरीके से सभी चीजें आगे बढ़ रही हैं। प्राविधिक शिक्षा, बेसिक शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा सभी विभागों में बड़े स्तर पर काम हो रहे हैं। ढाई साल में 45 लाख में बच्चों का बेसिक शिक्षा विद्यालयों में एडमिशन हुआ है।
  43. ऑपरेशन कार्यक्रम के तहत विद्यालयों का बड़े स्तर पर कायाकल्प कराया गया। उनकी व्यवस्थाएं सुधारी गई है। 91000 विद्यालयों को कायाकल्प के अंतर्गत सुधारने में हमने सफलता प्राप्त की।
  44. पाठ्यक्रम को मजबूत बनाने में भी हमने सफलता प्राप्त की है।