कैबिनेट बैठक हुई समाप्त मिली कई प्रस्तावों को मंजूरी

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के लोकभावन में अयोध्या मसले पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद पहली बार उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कैबिनेट बैठक की। बता दे की यूपी कैबिनेट की बैठक खत्म हो चुकी है और इस की प्रेस वार्ता शुरूहो गई है। इस बैठक में निम्न बिंदुओं पर मुहर लगाई गई है। इस बैठक दौरान मुख्यमंत्री ने सबको सर्वोच्च न्यायालय के अयोध्या फैसले पर सभी को बधाई दी।

आज की इस कैबिनेट बैठक के दौरान निम्नलिखित बिंदुओं को दी गई मंजूरी

● उत्तर प्रदेश नगर पालिका नियमावली 2019 प्रक्षपित किए जाने के प्रस्ताव को दी गई मंजूरी
● केवी जीबीआई केंद्र मेरठ तथा संबंधित लाइनों के 400 केवी उपकेंद्र सिंभावली के परिलक्षित लाइन निर्माण के लिए प्रस्ताव पास किए गए।
● रामपुर और संभल में 765 केवीए जीआईएस उप केंद्र एवं निर्माण हेतु प्रस्ताव को मिली मंजूरी
● उत्तर प्रदेश सरकारी सेवक पदोन्नति द्वारा भर्ती के मानदंड में चतुर्थ संशोधन 2019 का प्रक्षेपण किया गया है जिसके प्रस्ताव पर लगाई गई मुहर।
● ग्राम विकास विभाग द्वारा संचालित अंबेडकर विकास संचालित योजना की गाइडलाइन में संशोधन के संबंध में प्रस्ताव को मिली मंजूरी।
● इंटीग्रेटेड बुद्ध सर्किट के सम्बंध में साइन हुए समझौता ज्ञापन में योजनाओ के सम्बंध में प्रस्ताव हुआ पारित।
● अलीगढ़ में राजा महेंद्र सिंह स्नातक डिग्री कॉलेज बनाने के प्रस्ताव को दी गई मंजूरी
● बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के ईपीसी कांट्रैक्ट के चयन उसकी ईबिडिंग के लिए जो 6 पैकेजस थे उनके छह पैकेजेस कॉन्ट्रैक्टर के नियुक्ति का अनुमोदन कैबिनेट ने कर दिया है।
● नगर निगम परिषद जनपद गोरखपुर में नगर निगम कार्यालय भवन निर्माण के लिए प्रस्तावित कार्यों में उच्च दृष्टि परिस्थितियों के अंतर्गत प्रस्तावित कार्य पर अनुमोदन देने के संबंध में प्रस्ताव पास कुल 70 वार्ड हैं जिनमे से नगर निगम का नया भवन बनाने का प्रस्ताव पास हुआ है।
● राज्य सरकार 2003 मैत्रीय परियोजना के ट्रस्ट अंतर्गत कुशीनगर में इंटीग्रेटेड सौंदर्यीकरण की योजना एमओयू साइन किया गया था। जिस प्रस्ताव को रद्द करने का प्रस्ताव मंत्रिपरिषद में पास हुआ है।

आज होगी कैबिनेट बैठक ,जानिए किन प्रस्तावों को दी जाएगी मंजूरी

सीएम ने प्रदेशवासियो को दिया धन्यवाद

इस कैबिनेट बैठक दौरान जितने प्रस्ताव पारित गए थे लगभग सभी प्रस्तावो पर सरकार ने अपना फैसला सुना दिया है। इसके साथ ही कैबिनेट बैठक में सभी मंत्रियों को मुख्यमंत्री ने बधाई दी और मुख्यमंत्री को सभी सदस्यों ने भी शांतिपूर्ण व्यवस्था के लिए बधाई दी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी प्रदेशवासियों को धन्यवाद देते हुए कहा की सोशल मीडिया पर हुई व्यापक तत्परता का असर लगातार बना रहा। इतने बड़े ऐतिहासिक फैसले के बावजूद भी पूरे प्रदेश में अमन-चैन और शांति व्यवस्था बनी रही। इसके लिए मैं सभी प्रदेशवासियों को तहे दिल से धन्यवाद देता हूँ।