अयोध्या राम मंदिर पर राम विलास वेदांती का बड़ा बयान, कांग्रेस के बारे में कही ऐसी बात

  • राम मंदिर पर वेदांती का बड़ा बयान राम विलास वेदांती बोले कांग्रेस के इशारे पर बाबरी पक्ष के वकीलों की केस लटकाने की मंशा।
  • इस बार अयोध्या में मनेगी खुशियों की दीपावली, राम की पैड़ी व मंदिरो में जलेंगे साढ़े तीन लाख दीप।
  • 17 नवम्बर तक अयोध्या में राम मंदिर बनने का ऐलान करेगा कोर्ट।

भाजपा सरकार ने अपनी राज में ऐसे कई सारे काम कर दिखाए जिसके बारे में देश की जनता सोच भी नहीं सकती थी। उन्ही कामो में एक काम अयोध्या में चल रहे मंदिर-मस्जिद विवाद का है, जिसका फैसला आना बाकी है। भाजपा सरकार ने जनता को साहस दिलाते हुए कहा कि जहाँ भाजपा सरकार ने कश्मीर के 370 को हटाने जैसे नामुमकिन फैसले को मुमकिन कर दिखाया वही अयोध्या का मंदिर-मस्जिद विवाद भाजपा सरकार के लिए बहुत ही तुच्छ फैसला है।

रामजन्म भूमि न्यास के वरिष्ठ सदस्य व भाजपा के पूर्व सांसद डॉ.राम विलास वेदांती ने कहा की भाजपा की राज में राम मंदिर निर्माण की कल्पना कर रहे हिन्दुओ की आस्था का प्रतीक मंदिर बनने को तैयार है। उन्होंने कहा की इस साल अयोध्या में होगी खुशियों की दिवाली। वेदांती जी ने कहा की अब तय है कि इस केस को बाबरी मस्जिद की पैरवी करने वाले वकील व कांग्रेस से जुड़े कपिल सिब्बल जैसे नेता लटका नहीं पाएंगे।

अयोध्या: एनबीएसए ने समाचार चैनलों के लिए जारी की एडवाइजरी

वेदांती जी ने कहा की बाबरी मस्जिद के वकील सुप्रीम कोर्ट में पैरवी के दौरान गलत तथ्य पेश कर, मामले को गलत दिशा में ले जाने की बार-बार कोशिश कर रहे है। एएसआई के तथ्यों पर सवाल खड़ा किया, बाद में कोर्ट से माफ़ी मांगना इसकी ताजी मिशाल है। कोर्ट का समय बर्बाद कर केवल मामले को लटकाने के लिए ऐसा किया जा रहा हैं। बाबरी मस्जिद के पक्षकारो को यह मालूम हो गया है की सारे तथ्य राम मंदिर के पक्ष में है। ऐसे में फैसला भी मंदिर के पक्ष में बिल्कुल ऐतिहासिक आएगा। विद्वान जजों की बेंच ऐसा फैसला देगी जिस पर कोई भी सवाल नहीं खड़ा कर सकेगा। वेदांती ने कांग्रेस पर ये आरोप लगाया कि वह मंदिर मस्जिद के इतने पुराने केस पर फैसला नहीं होने देना चाहती है। इसलिए बाबरी मस्जिद के वकीलों के जरिये जिरह को लंबित करने की कोशिश करवा रही है।

वेदांती जी ने कहा की इस साल अयोध्या में खुशियों की दीपावली मनेगी क्योंकि संतो और अयोध्या के लोगो को पूरा भरोसा है की 17 नवम्बर तक राम मंदिर का फैसला आ जायेगा। वेदांती जी ने कहा की सीएम योगी आदित्यनाथ ने राम नगरी की महत्ता दीपावली में भव्य कार्यक्रमों का आयोजन करवा कर बढ़ा दी है। साढ़े तीन लाख दीप राम की पैड़ी व मंदिरो में जलेंगे। अयोध्या में भव्य राम मंदिर निर्माण का समय बहुत ही करीब है।