धरना प्रदर्शन मामले में कठेरिया पर गैर जमानती वारंट जारी

google

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष रामशंकर कठेरिया के खिलाफ नौ साल पहले रेलवे स्टेशन पर धरना प्रदर्शन के मामले को लेकर गैर जमानती वारंट जारी किया गया है। अध्यक्ष रामशंकर कठेरिया इटावा से भारतीय जनता पार्टी के सांसद भी हैं और इटावा से पहले दो बार आगरा के सांसद रह चुके हैं।

रामशंकर कठेरिया ने 2010 में आगरा में हाईकोर्ट बेंच की स्थाना की मांग को लेकर बीजेपी के नेताओं के साथ मिलकर रेलवे स्टेशन पर धरना प्रदर्शन किया था और ट्रेन को रोका गया था। इस मामले में जीआरपी ने उनपर रेलवे एक्ट के तहत तीन धाराओं में एफआईआर दर्ज किया था जिसमे आरोप पत्र दाखिल किया जा चुका है। रामशंकर कठेरिया पर सुनवाई के दौरान सम्मान जारी किया गया था जिसके बाद भी वह कोर्ट में पेश नहीं हुए।

बीजेपी नेता ने किया एसएसपी के इस्तीफे की मांग

कोर्ट ने इस मामले पर कड़ा रुख अपनाया है। विशेष न्यायधीश उमाकांत जिंदल ने तय की गई तारीख पर कोर्ट में हाज़िर न होने की वजह से एसएसपी को आदेश जारी किया है कि रामशंकर कठेरिया को आने वाली 13 नवंबर की तारीख तक कोर्ट में हाज़िर किया जाए।