आजम खान के खिलाफ 12 साल पहले लिखा गया पत्र

उत्तर प्रदेश के सपा नेता आज़म खान को 12 साल पहले सन 2007 में शत्रु संपत्ति को लेकर तत्कालीन रामपुर के कलेक्टर मोहम्मद मुस्तफा ने आगाह किया था। उन्होंने आज़म खान के खिलाफ एक बहुत ही अहम् पत्र लिखा था।पत्र में मोहम्मद मुस्तफा ने कहा था कि रामपुर की तहसील सदर में स्थित सिंगनखेड़ा गांव की शत्रु सम्पत्तियों के सम्बन्ध में रामपुर के जिलाधिकारी द्वारा संस्तुति / प्रस्ताव भेज दिये गए हैं। इसमें मोहम्मद आज़म खान के नाम से भी संस्तुति / प्रस्ताव भेजा गया था।

आजम खान फिर पहुंचे एडीजे-3 कोर्ट, याचिका पर होगी सुनवाई

इसी सम्बन्ध में अवगत कराना है कि अधोहस्ताक्षरी की जानकारी में यह तथ्य सामने आया है कि आज़म खान बहुत ही प्रभावशाली और राजनीतिक रसूख वाले व्यक्ति हैं और अपने प्रभाव तथा उत्तर प्रदेश शासन में अपनी पैठ के चलते सिंगनखेड़ा गांव की शत्रु सम्पत्तियों पर बलपूर्वक कब्ज़ा करने की योजना बना चुके हैं और कभी भी उस पर अमल कर सकते हैं।

मोहम्मद मुस्तफा ने साथ ही पत्र में अनुरोध करते हुए लिखा कि जिलाधिकारी के हस्ताक्षर से प्रेषित प्रश्नगत आवंटन संस्तुति / प्रस्ताव को निष्प्रयोज्य, निष्प्रभावी तथा निरस्त समझा जाए और उसके सापेक्ष आपके स्तर से कोई भी कार्यवाही ना की जाए।