मंदिर निर्माण पर कल्याण सिंह की एक बार फिर होगी अहम भूमिका

● कल्याण सिंह की मंदिर निर्माण में अहम भूमिका होगी
● मंदिर के पक्ष में बहुत जल्दी निर्णय होने वाला है
● सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि 17 अक्टूबर तक इसकी सुनवाई पूरी हो जाएगी

उत्तर प्रदेश में बहुचर्चित मामले राम मन्दिर में जहां एक तरफ सुनवाई हो रही है। वही हिन्दुओ के फायर ब्रांड नेता व पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की मंदिर निर्माण में अहम भूमिका होगी ये बात किसी और ने नही बल्कि उनके बेटे और एटा से बीजेपी सांसद ने कहा कि मैं समझता हूँ कि मंदिर के पक्ष में बहुत जल्दी निर्णय होने वाला है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि 17 अक्टूबर तक इसकी सुनवाई पूरी हो जाएगी।

उत्तर प्रदेश के एटा से बीजेपी सांसद राजवीर सिंह ने राम मंदिर निर्माण पर बड़ा बयान दिया है। बीजेपी सांसद ने दावा करते हुए कहा कि मंदिर निर्माण में उनके पिता उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की भूमिका अहम होगी जो पूर्व में रही हैं। उन्होंने कहा कि मंदिर का निर्माण बहुत जल्दी होगा। बता दें कि बीजेपी सांसद एटा में मंडी समिति द्वारा आयोजित खाद्यान्न व्यापारी समिति के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे थे।एटा में मीडिया से बातचीत में बीजेपी सांसद ने कहा कि मैं समझता हूं कि मंदिर के पक्ष में बहुत जल्दी निर्णय होने वाला है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि 17 अक्टूबर तक इसकी सुनवाई पूरी हो जाएगी। उन्होंने कहा कि अगर रियलिटी शो बिग बॉस में अश्लीलता परोसी जा रही है तो ये बिल्कुल बैन होना चाहिए।

योगी सरकार का बड़ा ऐलान, दशहरा से दीवाली तक मिलेगी 24 घंटे बिजली

उत्तर प्रदेश के एटा से भारतीय जनता पार्टी सांसद और कल्याण सिंह के पुत्र राजवीर सिंह ने राम मंदिर को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने सोमवार को कहा कि मंदिर निर्माण में पूर्व मुख्यमंत्री कल्याण सिंह की बड़ी भूमिका रहेगी। राजवीर एटा में मंडी समिति द्वारा आयोजित खाद्यान्न व्यापारी समिति के नवनिर्वाचित पदाधिकारियों के शपथ ग्रहण समारोह में पहुंचे थे।

कोर्ट के फैसले का सबको सम्मान करना चाहिए- योगी

इससे पहले राम मंदिर को लेकर सोमवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखपुर में कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान सभी को करना चाहिए। उन्होंने कहा कि देश के विकास के लिए निर्णय जरूरी है। सीएम योगी ने यह भी कहा कि सैकड़ों सालों से चल रहे एक विवाद का पटाक्षेप होना चाहिए, जिससे देश के प्रत्येक नागरिक के मन में विश्वास पैदा हो सके। उधर, अयोध्या में मुस्लिम पक्षकार इकबाल अंसारी इकबाल अंसारी ने कहा कि अयोध्या को खुशखबरी जरूर मिलेगी, लेकिन कोर्ट हमेशा सबूतों के आधार पर फैसला करता है। उन्होंने कहा, ‘सुप्रीम कोर्ट जो भी फैसला करेगा हम उसे मानने को तैयार हैं।