5 बिंदुओं को ध्यान में रखा जा रहा है : लल्लू

  • कांग्रेस पार्टी की ओर से सलमान खुर्शीद और अनूप पटेल वित्त आयोग से करेंगे मुलाक़ात
  • जनसंख्या, जनसंख्या वृद्धि, इनकम टैक्स तथा क्षेत्रफल को रखा जा रहा है ध्यान में

उत्तर प्रदेश के कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने पत्रकारों से बातचीत किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि कल वित्त आयोग की टीम राजधानी लखनऊ आएगी। उन्होंने बताया कि मुख्यतः 5 बिंदुओं को ध्यान में रखा जा रहा है जिसमे जनसंख्या, जनसंख्या वृद्धि, इनकम टैक्स तथा क्षेत्रफल हैं। साथ ही कहा कि राजकीय कोष का घाटा 3% से कम ही रहना चाहिए। शिक्षा, स्वास्थ्य, ग्रामीण विकास, सिंचाई और बाढ़ नियंत्रण, रोजगार और किसानों के क्षेत्र के बारे में सोचना चाहिए और इनके लिए अलग से बजट का प्राविधान करना चाहिए। अजय कुमार लल्लू ने कहा कि पिछले वर्ष बिजली में 18% और कृषि में 19% की कमी की गई थी और उत्तर प्रदेश में आयुष्मान योजना के तहत सिर्फ 1% का बजट हुआ था। जिसपर ध्यान देना ज़रूरी है।

पत्रकारों को सम्बोधित करते हुए अजय कुमार लल्लू ने बताया कि कांग्रेस पार्टी की ओर से सलमान खुर्शीद और अनूप पटेल वित्त आयोग से मुलाक़ात करेंगे तथा कांग्रेस के विचार उनके समक्ष रखेंगे। उन्होंने कहा कि अदिति सिंह का जवाब विधानमंडल कार्यालय में आएगा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से विधायक मिलते रहते हैं, इसको किसी दूसरे नज़रिये से न देखा जाना चाहिए।

कांग्रेस की अनुशासन समिति से विनोद चौधरी का इस्तीफा

कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट हमेशा कहता रहा है कि उत्तर प्रदेश में जंगलराज चल है और सरकार आरोपियों की रक्षा करती है जिसमे उन्नाव और शाहजहांपुर के कांड के बारे में सभी को मालूम है। कमलेश हत्याकांड को लेकर उनकी माँ के बयान के सम्बन्ध में उन्होंने कहा कि कमलेश तिवारी की मां के बयान को सरकार को सुनना चाहिए और फर्जी तरीके से मामले में कार्रवाई नहीं होनी चाहिए। अगर जांच एजेंसियां उनकी मां और पत्नी के बयान पर ध्यान देंगे तो ज़्यादा अच्छा रहेगा।