चीन से तनातनी के बीच लेह पहुँचकर पीएम मोदी ने किया जवानों का हौसला अफजाई

pm addresses the soldiers
image source - google

आज शुक्रवार को पीएम मोदी ने अचानक लेह पहुंच कर सबको चौंका दिया। क्योंकि चीन से सीमा विवाद के बीच पीएम मोदी का यह दौरा चीन के साथ-साथ पाकिस्तान के लिए भी एक सख्त संदेश है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ सीडीएस बिपिन रावत, सेना प्रमुख एम एम नारवाणे और कई अधिकारी मौजूद रहे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लेह पहुंचकर अधिकारियों के साथ बैठक कर सीमा पर मौजूदा हालात की समीक्षा की। इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने जवानों को संबोधित किया और उनका हौसला बढ़ाया।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गलवान घाटी में शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि दी और कहा कि देश की रक्षा आपके हाथों में है, आपके मजबूत इरादों में है। आप सब पर मुझे ही नहीं अपितु पूरे देश को अटूट विश्वास है और देश निश्चिंत भी है। आपकी भुजाएं उन चट्टानों जैसी मजबूत है। जो आपके इर्द-गिर्द मौजूद हैं। आपकी इच्छा शक्ति आसपास के पर्वतों की तरह अटल है। पीएम मोदी ने आगे कहा कि इतनी अधिक ऊंचाई पर आप मां भारती की ढाल बनकर उसकी रक्षा, उसकी सेवा करते हैं। उसका मुकाबला पूरे विश्व में कोई नहीं कर सकता।

15 जून को लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई थी। जिसमें भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हुए थे और कई घायल हुए थे। जबकि चीन के भी कई जवान इस हिंसक झड़प में मारे गए थे। लेकिन चीन की ओर से इसको लेकर कोई अधिकारीक आंकड़ा जारी नहीं किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

10 + = 13