पीसीएस 2017 परीक्षा का अंतिम परिणाम जारी, अमित शुक्ला बने टॉपर

उत्तर प्रदेश पीसीएस-2017 के लोक सेवा आयोग यूपीपीएससी ने बृहस्पतिवार को अंतिम परिणाम जारी कर दिया है। पीसीएस के 676 पदों पर भर्ती के लिए जारी मेरिट में शीर्ष तीन स्थानों पर प्रयागराज मंडल के होनहारों का कब्जा रहा। कुंडा प्रतापगढ़ के अमित शुक्ला ने प्रदेश में टॉप किया तो एडीए कॉलोनी नैनी, प्रयागराज के अनुपम मिश्र दूसरे और सदर बाजार प्रतापगढ़ की मीनाक्षी पांडेय तीसरे स्थान पर रहीं। 27 प्रकार के 676 पदों के लिए हुई इस परीक्षा के लिए इंटरव्यू-16 सितंबर से 1 अक्टूबर के बीच आयोजित किए गए थे। प्रतापगढ़ जिले के अमित शुक्ला ने इस परीक्षा में पहला स्थान हासिल किया है। दूसरा स्थान प्रयागराज के अनुपम मिश्रा और तीसरा स्थान प्रतापगढ़ की मीनाक्षी पांडेय को मिला है। श्रावस्ती के शत्रुघ्न पाठक चौथे और मुरादाबाद की निधि डोडवाल पांचवें स्थान पर हैं।

परीक्षा परिणाम से संबंधित प्राप्तांक एवं श्रेणीवार/पदवार कटऑफ अंक की सूचनाएं जल्द ही आयोग की वेबसाइट पर प्रदर्शित की जाएंगी। इस संबंध में सूचना का अधिकार अधिनियम 2005 के तहत प्राप्त प्रार्थना पत्र स्वीकार नहीं किए जाएंगे और न ही उन पर विचार किया जाएगा। आयोग के सचिव जगदीश के अनुसार जिन अभ्यर्थियों के नाम के सम्मुख प्रोविजनल शब्द अंकित है, उन्हें निर्धारित समय में वांछित अभिलेख प्रस्तुत करने होंगे, अन्यथा उनका अभ्यर्थन निरस्त कर दिया जाएगा।

पीसीएस 2017 में सफल अभ्यर्थियों की सूची देखने के लिए इस पर क्लिक करें।  

कायम हुए दो रिकार्ड

उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग ने दो नए रिकॉर्ड बनाए है। परिणाम को समय से जारी करने के लिए आयोग में सभी छुट्टियां रद्द कर दी गईं और 16 सितंबर से एक अक्तूबर तक लगातार इंटरव्यू कराया गया। इतना ही नहीं आयोग ने 81 अभ्यर्थियों के आवेदन पर उन्हें इंटरव्यू के लिए नई तिथि प्रदान की। इनमें से ज्यादातर अभ्यर्थी संघ लोक सेवा आयोग की सिविल सेवा मुख्य परीक्षा दे रहे थे और इसी दौरान पीसीएस का इंटरव्यू भी शुरू हो गया। आयोग ने पहली बार इतनी बड़ी संख्या में अभ्यर्थियों को इंटरव्यू के लिए अतिरिक्त समय प्रदान किया।

ICAI ने जारी किया फाइनल परीक्षा का प्रवेश पत्र

सर्वाधिक पद नायाब तहसीलदार के

पीसीएस 2017 में 27 तरह के कुल 676 पद हैं। बीडीओ के 97, जीटीओ/पीटीओ के नौ, टीओ के 47, डीआरएमओ के चार,, सहायक श्रमायुक्त के आठ, अभिहित अधिकारी के दो, कृषि अधिकारी समूह ‘ख’ के नौ, सांख्यिकी अधिकारी और जिला युवा कल्याण अधिकारी के पांच-पांच, जेल अधीक्षक के चार, डीपीआरओ के दस, जिला दिव्यांग कल्याण अधिकारी के 16, जिला उद्यान अधिकारी ग्रेड-वन के 15, जिला उद्यान अधिकारी ग्रेड-टू के छह, जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी के 14, डिप्टी कलेक्टर 22, डिप्टी एसपी के 90, सीटीओ के 80, जिला कमांडेंट होमगार्ड्स के चार, नायब तहसीलदार के सर्वाधिक 114, डीएसओ के दो, जिला लेखा परीक्षा अधिकारी के दो, सहायक आयुक्त एवं सहायक निबंधक के आठ, अधिशाषी अधिकारी श्रेणी-वन के 18 एवं जिला रोजगार सहायक अधिकारी के 84 पद हैं जबकि एसीटीटीए एवं कार्य अधिकारी पंचायतराज के केवल केवल एक-एक पद रहे हैं।

IAS जेबी सिंह की बेटी को मिली कामयाबी

2017 की पीसीएस परीक्षा में टॉप करने वाली कृतिका सिंह आईएएस जेबी सिंह की बेटी है। कृतिका सिंह का ट्रेजरी अफ़सर के पद पर चयन हुआ है। अपने पिता की तरह आगे की तैयारी में कृतिका सिंह लगी हुई है।

लखनऊ एसडीएम जयजीत मिश्रा के पति बने डिप्टी एसपी

उत्तर प्रदेश कानपुर के गुमटी नम्बर (5) में रहनी वाली जयजीत कौर जो की लखनऊ में एसडीएम है। उनके पति आशुतोष मिश्रा पीसीएस क्वालीफाई कर डिप्टी एसपी बन गए हैं। आशुतोष के पिता एसएस मिश्रा रिटायर्ड एडनिशनल कमिश्नर हैं। जयजीत ने बताया कि उसके पिता बिजनेसमैन हैं। मगर जब वह शादी के बाद ससुराल पहुंची तो आईएएस अधिकारी और पीसीएस अधिकारी का महत्व समझ आया। पिछली बार आशुतोष का चयन असिस्टेंट कमिश्नर कोआपरेटिव पद पर हुआ था। अभी ज्वाइनिंग नहीं मिली थी। तभी पीसीएस 2017 का परिणाम आ गया। इस बार वे डिप्टी एसपी बन गए हैं।