मुलायम सिंह आज मनाएंगे अपना 81 वां जन्मदिन

mulayam singh birthday
google

समाजवादी पार्टी को जन्म देने वाले उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री तथा केंद्र में रह चुके पूर्व रक्षा मंत्री नेता मुलायम सिंह यादव का आज दिनांक 22 नवम्बर दिन शुक्रवार को 81 वां जन्मदिन मनाया जायेगा। मुलायम सिंह यादव ने 4 अक्टूबर 1992 को समाजवादी पार्टी का गठन किया था। मुलायम सिंह यादव उत्तर प्रदेश के सबसे अनुभवी तथा लोकप्रिय नेताओं में से एक हैं। आपको बता दें मुलायम सिंह यादव ने समाजवादी पार्टी को धरातल से लेकर प्रदेश में एक बहुमत सरकार वाली पार्टी बनाने में कामयबी हासिल की है।

तीन बार मुख्यमंत्री तथा एक बार केंद्र में रक्षा मंत्री

मुलायम सिंह यादव आज अपना 81 वां जन्मदिन मनाएंगे, जितनी खुशी अपने जन्मदिन पर मुलायम सिंह यादव को है उससे कहीं ज्यादा खुशी समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं को है। मुलायम सिंह यादव ने उत्तर प्रदेश में इतनी लोकप्रियता हासिल किया की अपनी लोकप्रियता के कारण मुलयम सिंह यादव उत्तर प्रदेश के तीन बार मुख्यमंत्री चुने गए और एक बार देश के रक्षा मंत्री के पद पर चुने गए।

उत्तर प्रदेश के सभी जिलों में मनाएंगे जन्मदिन

समाजवादी पार्टी इस साल अपने जन्मदाता तथा संरक्षक नेता जी मुलायम सिंह यादव का जन्मदिन कुछ अलग तरीके से मनाएगी। सपा मुख्यालय लखनऊ में जन्मदिन की तैयारी बहुत ही धूम धाम से हो रही हैं। बता दें की इस बार सपा मुख्यालय ने आदेश जारी किया की सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव का जन्म दी सभी जिलों में सपा कार्यकर्ताओं द्वारा मनाया जायेगा।

क्या जन्मदिन पर एकजुट होंगे अखिलेश और शिवपाल

जहाँ एक तरफ जन्मदिन पर सभी बहुत खुश नजर दिखाई देंगे वहीँ दूसरी तरफ सभी के मन में यह बात आती है की क्या इस बार समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव तथा प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव नेताज जी के जन्मदिन को एक साथ मनाएंगे या फिर नेता जी अपने जन्मदिन का केक अपने पुत्र अखिलेश के साथ काटेंगे या नेता जी अपने जन्मदिन का केक अपने भाई शिवपाल सिंह के साथ काटेंगे या फिर पिछली बार की तरह ही इस बार भी अलग-अलग जगह पर दोनों के साथ काटेंगे।

बता दें की पिछली बार मुलायम सिंह यादव ने अपने जन्म दिन को पुत्र के साथ अलग तथा भाई के साथ अलग मनाया था और दोनों पार्टियों को सफलता के लिए आर्शीवाद दिया था। शिवपाल सिंह का कहना है की हम सपा के साथ गठबंधन करना चाहता हूँ इसके लिए अखिलेश राजी हो जाएँ तो अच्छा होगा। शिवपाल सिंह का कहना है की मैं अपनी पार्टी का विलय सपा में नहीं करूँगा और यही बात सपा पार्टी में गरमाहट पैदा करती है, अखिलेश यादव का कहना है की हम किसी भी पार्टी से गठबंधन नहीं करेंगे। इस मनमुटाव से पता चलता है की पिछली बार की तरह इस बार भी होगा।

जन्मदिन पर नाराज हुए मुलायम नही आ रहे पार्टी कार्यालय