फारुख अब्दुल्ला की बेटी और बहन को लिया गया हिरासत में

जम्मू कश्मीर में आज पहली बार धारा 370 हटाने के विरोध में प्रदर्शन कर रही नेशनल कांफ्रेस के नेता फारूक अब्दुल्ला की बहन सुरैया और बेटी साफिया को आज मंगलवार को हिरासत में ले लिया गया है। जम्मू कश्मीर में धारा 370 को हटाए जाने के बाद यह पहला विरोध था। ये विरोध प्रदर्श किस पार्टी के नेतृत्व में किया जा रहा था अभी इसकी पुष्टि नहीं हुई है। बता दें सुरक्षा बालों ने जम्मू कश्मीर में होने वाली हर गतिविधि पर पैनी नजर बना रखी है।

हिरासत में है ये नेता

घाटी में माहौल को बनाये रखने के लिए, भड़काऊ भाषण देने वाले नेताओं को नजर बंद कर दिया गया था। जिससे कोई नेता जन सभा कर के घाटी के लोगों को भड़का न सके। 2 महीनों में हालात सामान्य होते देख नजर बंद किये गए नेताओं को एक एक कर रियाह कर दिया गया पर जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री व उमर अब्दुल्ला अभी भी हिरासत में है। इस पर सवाल उठने पर गृह मंत्री अमित शाह ने बताया था की ऐसा ‘पीएसए’ के तहत किया जा रहा है।

अपराधियों पर हुई गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्यवाही

मोबाइल सेवा की गयी शरू

घाटी में हालात को सुधरते देख सरकार ने धीरे धीरे पाबंदियों को हटाना शुरू कर दिया है व कुछ ही क्षेत्रों में पाबंदिया है तथा घाटी में पोस्टपेड मोबाइल सेवा भी शुरू कर दी गयी है। जम्मू कश्मीर में रोजगार के लिए सरकार पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए खास जोर दे रही है। ऐसे में अगर कोई हालात ख़राब करने की कोशिश करेगा तो उसे तुरंत हिरासत में ले लिया जायेगा।