पूरी दुनिया में आज मनाया जा रहा है विश्व डाक दिवस

सारी दुनिया में 9 अक्टूबर को विश्व डाक दिवस (World Post Day) मनाया जा रहा है। समय के साथ साथ खतों का प्रारूप भी बदल गया है। व्यक्तिगत खतों की जगह आज बिज़नेस डाक और पार्सल चलते हैं। इंटरनेट के इस दौर में डाक विभाग ने भी नई टेक्नोलॉजी पर आधारित सेवाएं चालू कर दिया है। विश्व डाक दिवस इसलिए मनाया जाता है कि लोगों को डाक विभाग और डाक सेवा के बारे में जागरूक कराया जाए।

विश्व डाक दिवस का इतिहास

स्विट्ज़रलैंड की राजधानी बर्न में 9 अक्टूबर सन 1874 में 22 देशों ने मिलकर यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन (UPU) का गठन करने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किया था। उसके बाद सन 1969 में 9 अक्टूबर को ही जापान की राजधानी टोकियो में एक सम्मलेन किया गया जिसमे डाक दिवस के रूप में इसी दिन को चयन करने की घोषणा हुई। भारत एशिया का पहला देश था जो 1 जुलाई 1876 को यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन का सदस्य बना। सन 1947 में संयुक्त राष्ट्र के गठन के बाद यूनिवर्सल पोस्टल यूनियन संयुक्त राष्ट्र की एक ख़ास एजेंसी बन गई।

अगले सप्ताह से उत्तर भारत मे हल्की बारिश के साथ ठण्ड का आगमन

दुनिया भर में मनाया जाएगा विश्व डाक सप्ताह

9 अक्टूबर से लेकर 15 अक्टूबर तक विश्व डाक सप्ताह मनाया जाएगा। लखनऊ क्षेत्र के डाक सेवा निदेशक कृष्ण कुमार यादव ने स्कूली बच्चों को डाक विभाग के बारे में कई जानकारियाँ दीं।

  • 9 अक्टूबर को विश्व डाक दिवस दिवस मनाया जा रहा है
  • 10 अक्टूबर गुरुवार को बैंकिंग दिवस मनाया जाएगा
  • 11 अक्टूबर को डाक जीवन बीमा दिवस मनाया जाएगा
  • 12 अक्टूबर फिलेटली दिवस मनाया जाएगा
  • 14 अक्टूबर को व्यवसाय विकास दिवस मनाया जाएगा
  • 15 अक्टूबर को मेल दिवस मनाया जाएगा