अमेरिका ने कहा भारत से खराब रिश्तों के लिए पाकिस्तान खुद जिम्मेदार

अमेरिका ने पाकिस्तान और भारत के बीच खराब रिश्तों की जड़ पाकिस्तान को बताया है। एलिस जी वेल्स जो की दक्षिण और मध्य एशिया के लिए अमेरिका के सहायक सचिव है उन्होंने भारत पाक के बीच बातचीत न होने और दोनों देशों के बीच तनाव की वजह पाक में स्थित आतंकी संगठनों को बताया है। एलिस जी वेल्स ने कहा की किसी से भी महत्वपूर्ण बातचीत करने के लिए पहले उसका (भारत) विश्वास पाना होता है और दोनों देशों के बीच में मुख्या बाधा पाकिस्तान द्वारा आतंकी संगठनों को समर्थन देना है। अमेरिकी सचिव ने साफ शब्दों में कहा की दोनों देशों के बीच ख़राब रिश्तों की वजह पाकिस्तान है।

पाकिस्तान को दी चेतावनी

एलिस जी वेल्स ने कहा की पाकिस्तान के दो बड़े आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा व जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी भारत में घुसपैठ करते है और इसके लिए पूरी तरह से पाकिस्तान जिम्मेदार है। इन आतंकी संगठनों द्वारा किये गए ख़राब कार्यों की वजह से दोनों देशों के बीच में तनाव की स्थिति बानी रहती है। आगे उन्होंने कहा की हमारा (अमेरिका) मानना है की भारत पाक के बीच सफल वार्ता की नीव पाक आतंकियों के ऊपर कार्यवाही कर के रख सकता है। साथ ही दोनों देशों के बीच हम सीधे संवाद को समर्थन करते है। जैसा शिमला समझौता 1972 में भारत पाक में हुआ था।

FATF ने पाकिस्तान को दिया 2020 तक सुधरने का मौका

धरा 370 हटाने का किया समर्थन

भारत सरकार द्वारा जम्मू कश्मीर से धारा 370 को हटाने के उद्देश्य का मंगलवार को ट्रम्प सरकार ने समर्थन किया। साथ ही ये भी कहा की वह जम्मू कश्मीर में धारा 370 हटने के बाद से ही वहां के हालातों पर करीब से नजर बनाये हुए है। बता दें FATF ने भी पाकिस्तान को 2020 तक आतंकियों के ऊपर शख्त कार्यवाही करने की चेतावनी दी है। अगर पाक ने आतंकियों के ऊपर शख्त कदम नहीं उठाये तो पाकिस्तान को ब्लैक लिस्ट किया जा सकता है। इस चेतावनी के बाद भी पाक नहीं सुधरा था और शनिवार को LOC पर संघर्षविराम का उलंघन किया। जिसकी वजह से सेना के दो जवान शहीद हो गए थे। भारत ने इसका जवाब देते हुए 5 पाक सैनिको को मारा व 3 आतंकी कम्पों को नष्ट कर दिया था।