जालसाजों के चंगुल से नहीं बच पाया सूचना विभाग

image suorce-google

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जहाँ एसएसपी कलानिधि नैथानी ने जालसाजों और ठगी करने वालो के खिलाफ 420 ऑपरेशन चला रखा है। वही जालसाजों के हौसले और भी बुलंद होते नजर आ रहे है। बात दें की कमीशनखोरी और जालसाजी के मकड़जाल ने उत्तर प्रदेश के सूचना विभाग को भी नहीं छोड़ा है। इन जालसाजों ने सरकार के ही प्रचार प्रसार विभाग को चुना लगा दिया है। यह खुलासा परिवहन विभाग के दस्तावेजों की जाँच करने पर हुआ।

बता दे की इन दोनों जालसाजों पर हजरतगंज में जालसाजी कर ठेका हासिल करने वाली छह एलईडी फर्मों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई है। इस दोनों जालसाजों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इन दोनों जालसाजी के मास्टरमाइंड का नाम शुक्ला बंधु अमित व अतुल शुक्ला बताया है। ये दोनों जालसाज सरकारी योजनाओं के प्रचार-प्रसार में लगी एलईडी वेन को अपनी बताकर करोडो रुपये का ठेका हासिल करते थे। और जिन फर्मो के पास अपनी एलईडी लगी गाड़ियां नहीं होती थी उनको इन गाड़ियों का ठेका दिया करते थे।

पुलिस ने बताया की डिप्टी डायरेक्टर ने 6 फर्मो हजरतगंज में फिस्कॉन मीडिया,खेन्सा एडवरटाइजिंग, एडमायर पब्लीसिटी, मीडिया लॉजिक्स, मातेश्वरी इंटरप्राइजेज और काक्सा पब्लिसिटी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है।हालांकि पुलिस आगे की कार्यवाही कर रही है।