जम्मू कश्मीर के नौजवान देश की सेवा के लिए तैयार

शनिवार को आयोजित भर्ती रैली में स्थानीय युवाओं ने बड़ी संख्या में हिस्सा लिया और देश के दुश्मन पकिस्तान को बता दिया की जम्मू कश्मीर के लोग भारत के साथ है न की पकिस्तान के साथ। स्थानीय युवाओं के सेना में शामिल होने से पाकिस्तान का झूठ दुनिया के सामने आ गया है। पकिस्तान दुनिया को यह बताने की कोशिश कर रहा है की घाटी में हालात बहुत ख़राब है व लोगों को बंदी बना कर रखा जा रहा है।

धारा 370 हटने के बाद से ही पाकिस्तान जम्मू कश्मीर में माहौल ख़राब करने की कोशिश कर रहा है और आतंकियों को भारतीय सीमा में घुसपैठ करने में लगा हुआ है। पर सेना पाक के नापाक इरादों में कामयाब नहीं होने देगी और अब तो सेना में बड़ी संख्या में जम्मू कश्मीर के युवा भी भर्ती हो रहें है। जो आतंकवादियों के मुँह पर तमाचा है।

जम्मू कश्मीर:सेना ने किया आतंकवादियों की बड़ी साजिश को नाकाम,18kg विस्फोटक बरामद

2000 युवाओं ने लिया हिस्सा

बता दें श्रीनगर में आयोजित सेना भर्ती में हजारों की संख्या में युवा लाइन लगा कर अपनी बारी का इन्तजार करते नजर आये। इस भर्ती में लगभग 2000 युवाओं ने हिस्सा लिया। इससे ये सिद्ध होता है की घाटी के युवा देश की सेवा करना चाहते है न की आतंकवादी बनना चाहते है। युवाओं के सेना में शामिल होने से सेना की ताकत बढ़ेगी व आतंक फैलाने वाली शक्तियां कमजोर पड़ेंगी।