एसबीआई करने जा रहा बड़ा बदलाव,करोड़ो लोगों पर होगा असर

(एसबीआई) स्टेट बैंक ऑफ़ इंडिया सर्विस चार्ज में एक अक्टूबर से बड़ा बदलाव करने जा रही है जिसका असर एसबीआई के 32 करोड़ खाताधारकों पर पड़ेगा। देश की सबसे बड़ी सरकारी बैंक द्वारा ये बदलाव मंथली एवरेज बैलेंस मैंटेन नहीं करने पर 80 प्रतिशत की कमी आ जाएगी और ऑनलाइन ट्रांजेक्शन करने वालों के लिए RTGS व NEFT सस्ता हो जायेगा ।

पहला बदलाव बैंक की तरफ से यह किया जायेगा की मेट्रो सिटी एयर शहर में रहने वाले खाता धारको को पहले AMB 5000 रूपए रखना होता था जो एक अक्टूबर से घटकर 3000 रूपए हो जायेगा । दूसरा बदलाव यह है की शहर में रहने वाले खाता धारक यदि 3000 रूपए का बैलेंस मैंटेन नहीं कर पाता है तो 15 रूपए पैनल्टी व जीएसटी देनी होंगी । 75 प्रतिशत तक बैलेंस होने पर 12 और 50 प्रतिशत तक होने पर 10 रूपए देने होंगे।

EMI डेबिट कार्ड से SBI ग्राहक EMI पर ले सकेंगे पसंदीदा सामान

3 बार से ज्यादा जमा किया तो देना होगा 50 rs

1 अक्टूबर 2019 से यदि एसबीआई खाता धारक एक महीने में 3 बार से ज्यादा पैसा बैंक में जमा करेंगे तो आपको 50 रूपए प्रति ट्रांजेक्शन देना होगा । इस नयी सूची के अनुसार बचत खाता पर एक वत्त वर्ष में अब 10 चेक ही मुफ्त देगा और 10 चेक बुक लेने पर 40 रूपए देना होगा। 25 चेक वाली चेकबुक के लिए 75 रुपये व GST अलग से लिया जायेगा।

एटीएम चार्ज में भी बदलाव

एक अक्टूबर से होने वाले बदलाव में 6 मेट्रो सिटी के एटीएम में से 10 फ्री ट्रांजेक्शन कर सकेगा और अन्य शहरों के एटीएम से 12 फ्री ट्रांजेक्शन आप कर सकेंगे सभी शहरों में सैलरी अकाउंट वाले ATM पर ज्यादा ट्रांजेक्शन भी कर सकते हैं। वहीं 18 साल की उम्र के नाबालिग,पेंशनर,सीनियर सिटीजन तथा 21 साल तक के छात्रों के अकाउंट एएमबी से बाहर रखे है।