चुनार के गुलाबी पत्थर करेंगे विश्व नाथ धाम कॉरिडोर का निर्माण

बाबा भोलेनाथ कि नगरी काशी में बन रहे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ड्रीम प्रोजेक्ट “विश्वनाथ धाम कॉरिडोर” का निर्माण चुनार के गुलाबी पत्थरों से किया जायेगा। मकराना के दूधिया सफेद मार्बल और वियतनाम के खास पत्‍थरों से बनेगा बाबा का धाम। इस प्रोजेक्ट कि लागत लगभग 450 करोड़ रुपये है। प्रोजेक्ट को यूपी सरकार की मंजूरी मिल चुकी है। इस प्रोजेक्ट को 2021 तक पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए क्षेत्र में आने वाले भवनों को खरीदने के लिए के लिए 290 करोड़ रुपये खर्च होंगे। राज्‍य सरकार ने अध्‍ययादेश जारी करके मंदिर परिक्षेत्र को विशिष्‍ट क्षेत्र घोषित कर भवनों के अधिग्रहित करने कि प्रक्रिया को मंज़ूरी दे दी है।

खुला और हरियाली भरा होगा बाबा का धाम

50 हजार वर्ग मीटर में बनने वाले इस ड्रीम प्रोजेक्ट का लगभग 70% भाग हरियाली वाला होगा तथा 30% क्षेत्र खुला और हवा दार होगा। इसके अलावा इस  कॉरिडोर में कल्चरल सेंटर, टूरिस्ट फैसिलिटेशन सेंटर, सिटी म्यूजियम, विश्रमालय, वेदिक केंद्र, गौशाला, मोक्ष-भवन, दर्शन-आरती सुविधा केंद्र, प्रशासनिक भवन, पुजारी विश्राम कक्ष आदि का निर्माण किया जायेगा, साथ ही बाबा के भजनो को प्रसारित करने के लिए म्यूजिक सिस्टम से त्यार भवन का निर्माण किया जायेगा।

काशी में गंगा नदी में विसर्जित की गईं कमलेश तिवारी की अस्थियां

कड़ी सुरक्षा में रहेगा बाबा विश्वनाथ धाम

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा इस प्रोजेक्ट का शिलान्यास  8 मार्च को किया गया था। प्रोजेक्ट को 18 महीने में पूरा करने कि समय सीमा तय की गयी है। सुरक्षा के लिए अत्याधुनिक उपकरणों का इस्तेमाल किया जायेगा। जिसके लिए इंटीग्रेटेड कमांड सेंटर भी बनाया जायेगा।