मोदी सरकार का जवानों को तोहफा,40 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट्स दिए

मोदी सरकार ने जवानों की रक्षा के लिए बड़ा कदम उठाया है। सीमा पर अपनी जान हथेली पर लेकर चलने वाले जवानों के लिए सरकार 40 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट्स की आपूर्ति करने वाली है। खास बात तो यह है की इन जैकेट्स पर AK-47 जैसी गन की गोलियां भी असर नहीं करेंगी और इन 40 हजार जैकेट्स को भारत में ही बनाया गया है। यानि ये पूर्ण रूप से स्वदेशी हैं।

2020 के अंत तक आर्डर होगा पूरा

इन बुलेटप्रूफ जैकेट्स को एसएमपीपी प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी ने बनाया है। इस कम्पनी को 2021 के अंत तक का समय दिया गया है। मेजर जनरल अनिल ओबेरॉय ने कम्पनी की तरफ से बताया की हम 2020 के अंत तक ही इस आर्डर को पूरा कर देंगे। यानी सेना के जवानों को ज्यादा इन्तजार नहीं करना पड़ेगा और बुलेटप्रूफ जैकेट्स की मदद से आतंकियों के खिलाफ लड़ाई लड़ने में जुटे सैनिकों की रक्षा पहले से बेहतर हो सकेगी।

मोदी सरकार का नया प्लान, पुराने उपकरणों के सरकार देगी बढ़ाकर दाम

किसी भी तरह की गोलियां झेलने में सक्षम

कम्पनी ने बताया की देश में निर्मित ये बुलेटप्रूफ जैकेट्स हार्ड स्टील से बनी गोलियों को भी आसानी से झेल सकती है तथा ये वजन में भी काफी हल्की है। सरकार ने कम्पनी को पहले साल में 36 हजार बुलेटप्रूफ जैकेट्स मुहैया करने को कहा था पर कम्पनी इस टारगेट से ज्यादा बनाने का प्रयास कर रही है। बता दें रक्षा मंत्रालय ने 2018 में एसएमपीपी कम्पनी के साथ 693 करोड़ रूपए का सौदा तय किया था। रक्षा मंत्रालय द्वारा तय किये गए इस सौदे के तहत भारतीय सेना को 1.86 लाख बुलेटप्रूफ जैकेट्स देने का लक्ष्य है ।