बुलबुल ने पश्चिम बंगाल में मचाई तबाही,पीएम ने सीएम ममता से की बात

    Bulbul cyclonic
    image source- google

    बुलबुल चक्रवाती तूफान ने ओडिशा व पश्चिम बंगाल के राज्यों के तटीय जिलों में तबाही मचा रखी है। इस तूफान की वजह से कई लोग घायल हुए और 6 लोगो की जान चली गयी। बुलबुल चक्रवाती तूफान की ताकत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है की इसने ओडिशा व पश्चिम बंगाल में फोन टावरों,कई घरों व पेड़-पौधों को तहस-नहस कर दिया है। मामला संज्ञान में आते ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ममता बनर्जी से फोन पर बात कर स्थिति का जायजा लिया है। खबर के अनुसार इन दोनों जगह तबाही मचाने के बाद तूफान बांग्ला देश की तरफ बढ़ गया है।

    बुलबुल चक्रवाती तूफान ने हजारो लोगो को मुसीबत में डाल दिया है। इस तूफान की वजह से लगभग 800 लोगो ने अपने घर खो दिए। 950 फोन टावरों को भी इसने नुकसान पहुंचाया है। जिसकी वजह से फोन सेवा बंद हो गयी है। इसके साथ ही 850 पेड़ो को भी क्षतिग्रस्त किया है। अब दोबारा से सभी सेवाएं दूरसंचार व बिजली आदि को बहाल करने का काम शुरू कर दिया गया है। पीएम मोदी ने पश्चिम बंगाल की सीएम से फोन पर बात करने की सूचना ट्विटर पर देते हुए लिखा की पूर्वी भारत के भागों में चक्रवात की स्थिति और भारी बारिश के मद्देनजर स्थिति की समीक्षा की। सीएम ममता बनर्जी से चक्रवात बुलबुल के कारण उत्पन्न हुई स्थिति पर बात की और केंद्र से हर संभव सहायता का आश्वासन दिया। मैं सभी की सुरक्षा और कल्याण के लिए प्रार्थना करता हूं।