उत्तर प्रदेश मदरसा बोर्ड: पाठ्यक्रम एवं मान्यता की पूरी जानकारी

उत्तर प्रदेश मदरसा बोर्ड अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के अधीनस्त कार्य करता है। पहले यह शिक्षा विभाग के अधीन निरीक्षक अरबी मदरसा उत्तर प्रदेश पदैन रजिस्ट्रार अरबी फारसी परीक्षायें उ.प्र. इलाहाबाद में संचालित था। बाद में शासन ने इसे वर्ष 1996 में शिक्षा विभाग से हटाकर अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के अधीन कर दिया।

मदरसा बोर्ड का गठन-

विधायी अनुभाग-1, उ0प्र0 की अधिसूचना संख्या 1571/सात-वि0-1-1 (क) 33-2004 दिनांक 06।12।2004 द्वारा उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद अधिनियम-2004 का प्रख्यापन किया गया है। बाद में अल्पसंख्यक कल्याण एवं वक़्फ़ अनुभाग-3, उत्तर प्रदेश शासन के अधिसूचना संख्या सी0एम0-205/52-3-2007-2(170)/98 दिनांक 14।12।2007 द्वारा उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद, लखनऊ का गठन किया गया।

मदरसा बोर्ड का कार्य

क- मान्यता प्रदान करना
ख- परीक्षाओं का आयोजन एवं संचालन

मान्यता प्रदान करना

मदरसा बोर्ड के तहत मुख्यतः दो प्रकार की मान्यता दी जाती हैं मान्यता सम्बन्धी मानक व शर्ताें के लिये उ0प्र0 अशासकीय अरबी और फारसी मान्यता प्रशासन एवं सेवा विनियमावली 2016 प्रख्यापित की गयी है। वर्तमान समय में उ0प्र0 मदरसा शिक्षा परिषद के अधीन संचालित किये जाते हैं।

  1. तहतानिया (प्राइमरी स्तर) फौकानिया (जू0हाईस्कूल स्तर)
  2. आलिया(मुंशी, मौलवी, आलिम, कामिल, फाजिल) समकक्ष इण्टरमीडिएट

आलिया स्तर की मान्यता प्राप्त करने की औपचारिकताएं

मदरसा बोर्ड से आलिया की मान्यता प्राप्त करने के लिए मदरसे के पास निम्नलिखित औपचारिकताएं पूरी होनी चाहिए –

up madarsa board
source http://www.upbme.org/

नए मदरसे की मान्यता के लिए यहाँ से अप्लाई करें – 

minority welfare

यहां दिए गए फार्म को भर कर आप नए मदरसे की मान्यता के लिए आवेदन कर सकते हैं।

परीक्षाओं का आयोजन एवं संचालन-

उ0प्र0 मदरसा शिक्षा परिषद द्वारा संचालित परीक्षाओं का विवरण निम्नानुसार हैः-

क्रमांक  परीक्षा का स्तर
1.     मुंशी/मौलवी (समकक्ष हाईस्कूल) (उ0प्र0 शासन द्वारा उच्च शिक्षा एवं नियुक्ति हेतु मान्य किया गया है)
2.     आलिम (समकक्ष इण्टरमीडिएट ) (उ0प्र0 शासन द्वारा उच्च शिक्षा एवं नियुक्ति हेतु मान्य किया गया हैं)

पाठ्यक्रम-

उ0प्र0 मदरसा शिक्षा परिषद के पाठयक्रम कक्षावार विवरण निम्न प्रकार हैंः-

मुंशी/मौलवी

अनिवार्य विषय/वैकल्पिक विषय
1. थियोलाॅजी (शिया/सुन्नी) गणित/गृह विज्ञान/ लाॅजिक एण्ड फिलास्फी/ सामान्य अघ्ययन/विज्ञान/तिब
2. क-अरबी साहित्य (मौलवी अभ्यर्थी के लिये)
ख-फारसी साहित्य (मुंशी अभ्यर्थी के लिये)
3. उर्दू साहित्य
4. सामान्य अंग्रेजी
5. सामान्य हिन्दी
आलिम अरबी/फारसी
1. थियोलाॅजी (शिया/सुन्नी) गृह विज्ञान/ सामान्य हिन्दी/ लाॅजिक एण्ड फिलासफी/ सामान्य अघ्ययन/ विज्ञान/            टाईपिंग/तिब
2. क-अरबी साहित्य (आलिम अरबी अभ्यर्थी के लिये)
ख-फारसी साहित्य (आलिम फारसी अभ्यर्थी के लिये)
3. उर्दू साहित्य
4. सामान्य अंग्रेजी
कामिल अरबी, फारसी प्रथम एवं द्वितीय वर्ष
1. मुताल-ए-हदीस लाॅजिक एण्ड फिलासफी/ अरबी साहित्य/उर्दू साहित्य/फारसी साहित्य/सामान्य अगं्रेजी/ कम्प्यूटर
2. मुताल-ए-मजाहिब
3. क-अरबी साहित्य (कामिल अरबी अभ्यर्थी हेतु)
ख-फारसी साहित्य (कामिल फारसी अभ्यर्थी हेतु)
4. फुनूने अदब, बलागत व उरूज
5. सामाजिक अघ्ययन
कामिल अरबी एवं फारसी तृतीय वर्ष
1. मुताल-ए-फिक्ह इस्लामी (सुन्नी/शिया) वैकल्पिक विषय कोई नहीं।
2. मुताल-ए-उसूले फिक्ह (सुन्नी/शिया)
3. क-जदीद अरबी अदब की तारिख (कामिल अरबी तृतीय वर्ष अभ्यर्थी हेतु)
ख-जदीद फारसी अदब की तारीख (कामिल अरबी तृतीय वर्ष अभ्यर्थी हेतु)
4. तरजुमा निगारी इंशा व ताबीर
फाजिल दीनियात (थियोलाॅजी) प्रथम वर्ष
1. मुताल-ए-र्कुआन
2. मुताल-ए- हदीस
3. मुताल-ए- फिक्ह इस्लामी
4. क-मुताल-ए-तसव्वुफ अथवा मुताल-ए-इल्मे कलाम (सुन्नी)
ख-मुताल-ए-अख्लाक व इरफान (शिया)
(वैकल्पिक विषय कोई नहीं)
फाजिल दीनियात (थियोलाॅजी) द्वितीय वर्ष
1.मजहबी तारीख व अकायद
2.इस्लामी सकाफत
3.इस्लाम एवं साइन्स
4. रिसर्च प्रोजेक्ट (तहकीकी मुताला)
फाजिल माकुलात (लाॅजिक एण्ड फिलासफी) प्रथम वर्ष
1.मनतिक (कदीम व जदीद)
2. तबीआत
3. इलाहियात
4. तारिख फलसफये इस्लाम
फाजिल माकुलात (लाॅजिक एण्ड फिलासफी) द्वितीय वर्ष
1.कलाम तसव्वुफ
2.फलसफ-ए-जदीद
3.फलसफ-ए-अख्लाक़
4.तहकीकी मुताला
फाजिल अरबी साहित्य प्रथम वर्ष
1. अरबी नस्र (कदीम व जदीद)
2. अरबी नज्म (कदीम व जदीद)
3. फुनूने अदब (नहव, मआनी व ब्यान, लिसानयात)
4. तर्जुमा
फाजिल अरबी साहित्य द्वितीय वर्ष
1.तनकीद
2.असनाफ अदब
3.ताबीर इंशा
4.तहकीकी मुताला
फाजिल फारसी साहित्य प्रथम वर्ष
1. कदीम फारसी अदब
2. जदीद फारसी अदब
3. मुतसव्वीफाना अदब
4. तारीख फारसी अदब
फाजिल फारसी साहित्य द्वितीय वर्ष
1. हिन्दुस्तानी फारसी अदब
2. फुनूने अदब
3. इंशा व तर्जुमा
4. तहकीकी मुताला

मदरसा अनुदान-

समय-समय पर राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में संचालित आलिया स्तर के स्थाई मान्यता प्राप्त मदरसों को अनुदान सूची पर लिया जाता रहा है। जिसके लिये प्राप्त प्रस्तावों का परीक्षण किया जाता है एवं अनुदान हेतु मानक एवं शर्ताें को पूर्ण करने वाले मदरसों को अनुदान सूची पर सम्मिलित किये जाने की संस्तुति की जाती है।

मदरसों का संचालन-

परिषद से मान्यता प्राप्त मदरसों में उत्तर प्रदेश मदरसा शिक्षा परिषद अधिनियम-2004 के अन्तर्गत विनियमावली 2016 में निहित शर्ताें/प्रतिबन्धों के अनुसार मदरसों से अनुपालन कराया जाता है। कमियों के संज्ञान में आने पर निराकरण हेतु नोटिस दी जाती है। समय-समय पर मदरसों का निरीक्षण भी किया जाता है। कुशल संचालन हेतु सुझाव भी दिये जाते हैं। आदेशों के अवहेलना अथवा किसी मानक के पूर्ण न होने पर मान्यता का निल्मबन/प्रत्याहरण भी किया जाता है।

मदरसों का नियंत्रण-

प्रदेश स्थित सम्पूर्ण मान्यता प्राप्त मदरसों पर नियंत्रण के हेतु उ0प्र0 अशासकीय अरबी और फारसी मदरसा मान्यता एवं प्रशासन सेवा विनियमावली 2016 में निहित व्यवस्था का पालन कराया जाता है। इसके अतिरक्ति मदरसों पर नियंन्त्रण के लिये जिला स्तर पर जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारी तैनात किये गये हैं। साथ ही सम्पूर्ण प्रदेश के मदरसों पर नियंत्रण के लिये उ0प्र0 मदरसा शिक्षा परिषद स्तर पर रजिस्ट्रार/निरीक्षक एवं उप रजिस्ट्रार कार्यरत हैं। रजिस्ट्रार परिषद का मुख्य कार्यपालक अधिकारी होते हैं।

source:(https://madarsaboard.upsdc.gov.in)