ज़मीनी विवाद को लेकर भाइयों ने किया पत्रकार का क़त्ल

उत्तर प्रदेश के कानपुर शहर के डिप्टी पड़ाव में ज़मीनी विवाद को लेकर दो भाइयों ने अपने ही सगे भाई की गोली मरकर हत्या कर दिया। पुलिस ने हत्या के आरोपी दोनों भाइयों को गिरफ्तार कर लिया है। दोनों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने पत्रकार विजय गुप्ता की लाश उन्नाव में पानी से भरे एक गड्ढे से बरामद किया है। पत्रकार की लाश को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है।

रायपुरवा के पुलिस इंस्पेक्टर को पत्रकार विजय गुप्ता ने दीवाली की रात को हत्या की धमकी देने की खबर दिया था लेकिन इंस्पेक्टर को लगा कि पत्रकार विजय गुप्ता मनगढ़ंत कहानी बना रहे हैं और इस बात को गंभीरता से नहीं लिया जिसके कारण पत्रकार की हत्या हो गई। यदि इंस्पेक्टर ने पत्रकार की बात को गंभीरता से ले लिया होता तो आज विजय गुप्ता की जान बच गई होती।

पत्रकार विजय गुप्ता की हत्या के बाद से कानपुर के पत्रकारों ने पुलिस को लेकर नाराज़गी ज़ाहिर किया है। लखनऊ जर्नलिस्ट एसोसिएशन के अध्यक्ष आलोक कुमार त्रिपाठी तथा उपाध्यक्ष विजय आनंद वर्मा ने पत्रकार की हत्या पर सख्त विरोध ज़ाहिर करते हुए दोषी पुलिस वालों पर कड़ी कार्यवाही करने की मांग कर रहे हैं।