ऑपरेशन 420 अभियान की सफलता में जुड़ा एक और पन्ना।

एसएसपी श्री कलानिधि नैथानी द्वारा चलाए जा रहे “ऑपरेशन 420” अभियान के तहत लखनऊ पुलिस को बड़ी सफलता हाँथ लगी है। चेकिंग के दौरान फर्जी पुलिस बनकर वसूली करने वाले पांच अभियुक्तों को लखनऊ पुलिस ने पकड़ा है। अपराधी फर्जी पुलिस बनकर ट्रक वालों को रोक कर करते थे वसूली। शातिरों को थाना इटौंजा पुलिस ने पकड़ा है।

चेकिंग अभियान के दौरान तीन शातिर चोर गिरफ्तार।

पकडे गए अभियुक्तों के पास से बत्ती व हूटर लगी बोलेरो कार बरामद हुयी है। शातिर ग्रामीण क्षेत्र मे ट्रक ड्राइवरों से जबरन पैसा वसूली करते थे। एक ट्रक ड्राइवर ने शक होने पर इटौजा पुलिस को इस घटना की जानकारी दी जिसपर इटौजा पुलिस ने तत्काल कार्यवाही करते हुए कुर्सी रोड पर शातिरों को धर दबोचा। सुचना देने वाले ट्रक ड्राइवर का नाम मोहम्मद सलीम बताया जा रहा है। जो मुज़फ्फर नगर के शेर नगर का रहने वाला है।

सूचना देने वाले ड्राइवर ने बताया की वह अपना ट्रक चला रहे थे तभी हूटर बजाते हुए एक सफ़ेद बुलेरो रॉंग साइड से आकर उनके ट्रक के ठीक सामने आकर रुकी। बुलेरो से एक अभियुक्त उतरकर उससे गाडी के कागज़ और माल की बिलटी दिखने को कहा। शातिर ने कागज़ ले जाकर गाडी में बैठे अपने साथी को दिए तथा ड्राइवर से 500 रुपये मांगने लगा । सलीम ने शातिर को पैसे दे दिए और अगले ढाबे पे खाना खाने के लिए रुक गया। तभी वहां पे दूसरे ड्राइवर ने अपने साथ भी वैसी ही घटने के होने की बात कही। जिस पर सलीम को शक होगया और उसने इटौंजा पुलिस को सूचना दी, पुलिस ने मामले को गम्भीरता से लिया और शातिरों को धर दबोचा।

पुलिस बताया की पाँचों फर्ज़ी पुलिस कर्मियो को गिरफ्तार कर जाॅच शुरू कर दी है। पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए नकली पुलिस कर्मियो के पास से बरामद बोलेरो सआदतगंज निवासी सविता श्रीवास्तव के नाम पर रजिस्टर है। उन्होने बताया कि अभी तक की पूछताछ मे गिरफ्तार किए गए नकली पुलिस कर्मियो द्वारा इससे पहले इस तरह की वारदात को अंजाम दिए जाने की कोई जानकारी नही है।