हरदोई ब्लॉक में कोटेदार द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार की मिली शिकायत

जिला हरदोई ब्लॉक भरावन के ग्राम सभा महीठा में कोटे में कोटेदार द्वारा किये जा रहे भ्रष्टाचार की सामूहिक पीड़ितों की शिकायत भारतीय किसान राजनैतिक दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष ,शशिकान्त शुक्ला जी के द्वारा उच्चाधिकारियों से पिछले 18 सितम्बर को गई थी। जिसकी जांच करने के लिए उच्चाधिकारियों ने सप्लाई इस्पेक्टर सण्डीला को 9 तारीख में भेजा था। सप्लाई इस्पेक्टर के अचानक 1 घंटे पहले जाँच करने आने की सूचना मिलने पर शशिकान्त शुक्ला को इसकी जानकारी मिल जाने पर ग्रामसभा के लोग जल्दी से इक्कट्ठा न हो सके और कोटेदार की मिली भगत होने की वजह से सप्लाई इस्पेक्टर ने जाँच में कोई रूचि नही दिखाई। जाँच के दौरान उन्होंने ये कह कर जाँच बंद कर दी की मेरे पास समय नहीं है। इसी का हवाला देते हुए वे वापस चले गए।

जाँच के दौरान सप्लाई इस्पेक्टर जब 100 मीटर की दूरी तक गए और ग्रामवासियो के कहने पर उनको मजबूरन कुछ लोगो की बयान की नोटिस बनानी पड़ी। इस बयान में कुछ ही लोगो का ही बयान नोट किया गया। इस दौरान कोटेदार से परेशान जनता की भीड़ उमड़ती जा रही थी। कोटेदार के खिलाफ सभी ने अपना -अपना बयान देना चाहा मगर अधिकारी ने ये कह कर टाल दिया की मेरे पास समय नहीं है।

गाजियाबाद के एसएसपी सुधीर कुमार सिंह ने भ्रष्टाचार मामले का किया ख़ुलासा

बता दें की कोटेदार से परेशान ग्रामवासियो ने जब उसके खिलाफ बयान देना शुरू किया तो कोटेदार वा सप्लाई इस्पेक्टर की मिली भगत होने की वजह से कोटे दार अपने ही लोगो से झगड़ा वा गली गलौज करवाने लगे। इसी बीच सप्लाई इस्पेक्टर कुछ ही लोगो की जांच की और सभी पीड़ितों की जांच किये बिना ही मौके से भाग निकले। सप्लाई इंस्पेक्टर के जाने के बाद कोटेदार ने कहा कि 50000 हजार रुपये दे दिया है। अब कोई भी हमारा कुछ नही बिगाड़ सकता है।