कांग्रेस ने भगत सिंह,राजगुरु,सुखदेव को भारत रत्न देने की सरकार से मांग की

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कांग्रेस के सांसद मनीष तिवारी ने पत्र लिख कर भगत सिंह,राजगुरु व सुख देव को भारत रत्न देने की मांग की है। इस मांग के साथ मनीष तिवारी ने पीएम से एक और मांग की है, चंडीगढ़ के मोहाली एयरपोर्ट का नाम बदल कर शहीद-ए-आजम भगत सिंह करने की मांग की। ये पत्र कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने आज शनिवार को लिखा है। अब देखना होगा की मोदी सरकार इस पत्र पर क्या प्रतिक्रिया देती है।

अगले साल दिया जाये भारत रत्न

कांग्रेस सांसद मनीष तिवारी ने पीएम को लिखे पत्र में कहा की मै आपको स्मरण करना चाहता हूँ की शहीद भगत सिंह,राजगुरु व सुखदेव ने पूरी पीढ़ी को देश भक्ति के लिए प्रेरित किया है। अगले वर्ष 26 जनवरी 2020 को इन शहीदों को भारत रत्न दिया जाये। साथ ही भगत सिंह,राजगुरु व सुखदेव को आधिकारिक तौर पर शहीद-ए-आजम घोषित किया जाये। 23 मार्च 1931 को इन स्वतंत्रता सेनानियों ने बलिदान दिया था। साथ ही मोहाली एयरपोर्ट का नाम शहीद-ए-आजम भगत सिंह रखने की मांग की है।

सावरकर को भारत रत्न

बीजेपी ने वीर सावरकर को भारत रत्न देने की घोषणा महाराष्ट्र के विधानसभा के अपने घोषणा पत्र में की थी। जिसके बाद विपक्ष ने बीजेपी पर हमला बोला था। मनीष तिवारी ने तंज कसते हुए कहा था की बीजेपी वीर सावरकर को नहीं नाथूराम गोडसे को भारत रत्न दे और अब मनीष तिवारी ने भगत सिंह,राजगुरु व सुखदेव को भारत रत्न देने की मांग की है।