बीजेपी ने किया वीर सावरकर को भारत रत्न देने का वादा

उत्तर प्रदेश भाजपा सरकार ने अपना घोषणा पत्र “संकल्प पत्र” पर जारी किया है। भजपा के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा और महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने मंगलवार को घोषणा पत्र जारी किया है। महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव (2019) को लेकर भारतीय जनता पार्टी ने मंगलवार को अपना चुनावी घोषणा पत्र जारी कर दिया। घोषणा पत्र का मुख्य बिंदू अर्थव्यवस्था है और 5 ट्रिलियन डॉलर इकोनॉमी के लिए रोडमैप तैयार किया गया है। बता दें की कला, साहित्य, विज्ञान, समाज सेवा और खेल जैसे विशिष्ट क्षेत्रों में असाधारण और उल्लेखनीय राष्ट्र सेवा करने वालों को देश का सर्वोच्च नागरिक सम्मान भारत रत्न प्रदान दिया जाता है।

संकल्प पत्र के नाम से जारी किए गए घोषणा पत्र के कवरपेज पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस की तस्वीर है। बीजेपी और महाराष्ट्र में उसकी सहयोगी शिवसेना लंबे समय से सावरकर को भारत रत्न देने की वकालत करते रहे हैं। बीजेपी ने घोषणापत्र में सावरकर के अलावा सावित्री बाई फुले को भी भारत रत्न दिलाने का वादा किया है। बता दें कि भारत रत्न सम्मान के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रपति से संस्तुति करते हैं और हर साल सिर्फ तीन अवॉर्ड दिए जाते हैं।

घोषणा पत्र जारी करने के मौके पर बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा, राज्य के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडनवीस, राज्य बीजेपी अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल समेत बीजेपी के कई बड़े नेता मौजूद थे। इसके साथ ही युवाओं को उत्साह बढ़ाने के लिए फिर रोजगार का पासा फेंका गया है। बीजेपी ने अपने घोषणा पत्र में पांच साल के कार्यकाल के दौरान एक करोड़ नौकरियां देने का वादा किया है। सीएम फडणवीस ने घोषणा की कि ज्योतिराव फुले, सावित्री फुले और सावरकर को भारत रत्न देने के संबंध में केंद्र सरकार से सिफारिश की जाएगी। घोषणा पत्र जारी करने से पहले बीजेपी ने अपना एक थीम सॉन्ग भी लॉन्च किया।

पीएम मोदी ने विपक्ष को दी चुनौती, कहा दम है तो आओ मैदान में

बता दें की भारत रत्न अवॉर्ड पाने वाले को भारत के राष्ट्रपति के हस्ताक्षर वाला सर्टिफिकेट और एक तमगा मिलता है। यह तमगा पीपल की पत्ती के आकार का करीब 5.8 सेमी लंबा और 4.7 सेमी चौथा और 3.1 मिमी मोटाई लिए होता है। यह तांबे का बना होता है और इस पर चमकता सूर्य होता है जिसकी रिम प्लैटिनम की होती हैं। इस तमगे में सूर्य के नीचे हिंदी में भारत रत्न लिखा रहता है।