होमगार्डस की छटनी को लेकर आराधना मिश्रा ने लिखा सीएम को पत्र

उत्तर प्रदेश में  तैनात 25 हजार होमगार्ड को हटा दिया गया है। योगी सरकार ने सोमवार को बजट का हवाला देकर होमगार्ड को बेरोजगार कर दिया। पुलिस के बराबर वेतन किए जाने के बाद बजट का भार काफी बढ़ गया था। इसे बैलेंस करने के लिए होमगार्डों की छंटनी कर दी गयी है।

आराधना मिश्रा ‘मोना’ ने 25 हजार होमगार्ड को हटाए जाने पर किया दुख व्यक्त। उन्होंने होमगार्ड को लिखित आस्वाशन के साथ होमगार्ड को न निकाल कर उनके कार्य दिवस कम किये जाने की मांग की। कांग्रेस नेता विधान मंडल दल आराधना मिश्र मोना ने होमगार्ड के पक्ष में मुख्यमंत्री को पत्र लिख इनकी समस्याओं से अवगत कराया।

सरकार का फैसला, किसी होमगार्ड को निकाला नहीं जाएगा

साथ ही उन्होंने कहा कि जहा सरकार की मनसा थी वो रोजगर के नए आयाम स्थापित कर उन्हें रोजगार देगी। ऐसे में एक साथ 25 हजार होमगार्ड को हटाना दुखद है। उन्होंने बताया कि होमगार्ड मंत्री लिखित आश्वासन देंगें की उनको काम दिया जाएगा। मोना ने मानवीय आधार पर निर्णय लेने की अपील की है। और इस अपील को करते हुए विभाग को समुचित धनराशि उपलब्ध कराकर उन्हें सेवा में बनाये रखने की मांग मुख्यमंत्री से की।