नहर में पानी के साथ बही शराब, पुलिस ने दी चेतावनी

आपने नहरों में पानी बहते तो सुना होगा पर नहर में शराब बहते आप पहली बार सुनेंगे। चौकियें मत, ये घटना बाराबंकी जिले के सतरिख व कोठी थाना इलाके से गुजरने वाली नहर की है, यहाँ नहर में पानी के साथ शराब भी बहती है। दरअसल यहाँ की नहर में शराब बहती नजर आयी जिसे गांव के लोग लूटने में लग गए है। इस बात की जानकारी मिलते ही पुलिस ने लोगो को चेतावनी देते हुए शराब न पीने को कहा।

कहाँ से आ रही ये शराब की नहर

शुक्रवार को सूबे की राजधानी से महज 50 किलो मीटर की दूरी पर स्थित जिला बाराबंकी की एक नहर है, जहाँ शराब से भरी बोतले बहते नजर आयीं। जिन्हें लूटने के लिए गांव वालो ने हड़कंप मचा दी। आपको बता दे कि यह मामला थाना सतरिख इलाके के भानमऊ गांव से होकर गुजरने वाली दारावपुर नहर का है। यह नहर नानमऊ, हरख, बन्दगीपुर, भगवानपुर कटरा, गाल्हामऊ, पांडेयपुरवा, खालेकपुरवा और कोठी थाना क्षेत्र के लालपुर जैसे कई गांव से गुजरते हुए आती है। जो व्यक्ति नहर से जितनी भी शराब निकाल पाया, वह उतना अपने साथ लेकर चला गया। इस बात की जानकारी पाकर पुलिस मौके वारदात पर पहुंच कर ग्रामीणों को जागरुक करने में जुट गयी। पुलिस ने ग्रामीणों को शराब न पीने की सलाह देते हुए कहा कि ‘शराब जहरीली हो सकती है कृपया इसका सेवन न करें।’

योगीराज में ट्रैफिक पुलिसकर्मी कर रहे दिनदहाड़े अपनी मनमानी

शराब को लूटने के लिए मची मारामारी

जब सुबह ग्रामीणों ने देखा कि नहर में पानी के साथ शराब से भरी हुई बोतलें भी बह रही हैं, तो तमाम लोग इन बोतलों को लूटने के लिए जुट गए। इस घटना पर अपर पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार शर्मा ने लाउडस्पीकर कि सहायता से लोगों को जागरूक किया, और कहा कि वह इस शराब का सेवन न करें, क्योंकि यह जहरीली भी हो सकती है। साथ ही शराब की बोतलों को पुलिस के हवाले करने को भी कहा। यह निर्देश इसलिए दिया गया ताकि किसी को कोई विपदा का सामना न करना पड़े। इसी चिंता के कारण पुलिस ने भी घर-घर सघन तलाशी का अभियान जारी किया। हालाँकि इस बात की कोई जानकारी नहीं है कि यह शराब की बोतले कहाँ से आयी है, पर इस घटना की जाँच जारी है।