वायुसेना के पायलेट उड़ाएंगे राष्ट्रपति और पीएम का विमान

    देश के राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री की हवाई सुरक्षा अब अमेरिकी राष्ट्रपति की तरह बेहतर होगी। राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री की सुरक्षा को मजबूत करने के लिए सुरक्षा व्यवस्था में बड़ा बदलाव किया गया है। अब राष्ट्रपति और पीएम के विमान की कमान भारतीय एयरफोर्स के पायलट्स को दी गयी है। यानि एयरफोर्स के पायलेट विमान को उड़ाएंगे। बता दें अगले साल 2020 में B-777 विमान भारत आएंगे।

    2 दशक से ज्यादा पुराने B-747

    अभी तक राष्ट्रपति,उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री B-747 नाम के विमान में यात्रा करते थे जोकि काफी पुराने हो चुके है और इनकी सुरक्षा प्रणाली भी पुराणी है। राष्ट्रपति,पीएम के विमान को अभी एयर इंडिया के पायलेट उड़ाते है पर अब एयर फोर्स के पायलेट्स को विमान उडाएने की जिम्मेदारी दी गयी है।

    बोईंग-777 की खासियत

    इस विमान का उपयोग VVIP लोगो के लिए किया जाता है। बोईंग-777 में अति आधुनिक मिसाइल सिस्टम लगे हुए है साथ ही 20 से ज्यादा मिसाइल वार्निंग सिस्टम,काउंटर मेजर्स डिसपेंसिंग सिस्टम 5,LAIRCM विमान में लगे है। बता दे ऐसी सुरक्षा अमेरिकी राष्ट्रपति के विमान में है और अब राष्ट्रपति और प्रधान मंत्री को भी ऐसी ही सुरक्षा देने की तैयारी पूरी हो गयी है। अगले साल जुलाई में 2 (B-777) विमान भारत आएंगे। इनको उड़ाने के लिए एयर इंडिया ने एयर फोर्स के पायलेट्स को ट्रेनिंग भी दे दी है। सरकार ने इस विमान को खरीदने के लिए 4469.50 करोड़ का बजट रखा है।